भारत के 9 मेगा सिटी में 940 नये ईवी चार्जिंग स्टेशन खुले

News Date 22 Feb 2022

भारत के 9 मेगा सिटी में 940 नये ईवी चार्जिंग स्टेशन खुले

इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए ढाई गुना चार्जिंग सुविधाओं का विस्तार

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों का चलन तेजी से बढ़ रहा है। देश के अनेक हिस्सों में ईवी चार्जिंग सुविधाओं में हुए विस्तार के कारण अब इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को अपनाने में लोग आगे आ रहे हैं। भारत के विद्युत मंत्रालय की मानें तो देश मेंं पिछले चार महीनों में 9 प्रमुख शहरों में सार्वजनिक ईवी चार्जिंग स्टेशनों की संख्या में 2.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। बता दें कि ये नये पब्लिक ईवी चार्जिंग स्टेशन दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चैन्नई, सूरत, पुणे, अहमदाबाद, बेंगलुरू और हैदराबाद सहित प्रमुख मेट्रो शहरों में स्थित हैं। इन चार्जिंग स्टेशनों के कारण ईवी वाहनों की बिक्री में वृद्धि हो रही है। ईवी निर्माता कंपनियां इस क्षेत्र में भारी निवेश की योजनाएं बना रही हैं। आइए, जानते हैं ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रैक्चर कैसे बढ़ रहा है और आने वाले समय में ईवी चार्जिंग स्टेशनों के निर्माण की और क्या संभावनाए हैं? 

केंद्र सरकार कर रही ईवी बढ़ाने की पहल 

यहां बता दें कि केंद्र सरकार पिछलेे कई वर्षों से देश में इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल पर जोर दे रही है। गत 14 जनवरी 2022 को भारत के वित्त मंत्रालय ने सरकार के निर्देश पर ईवी इंफ्रास्ट्रैक्चर के लिए संशोधित समेकित दिशा-निर्देश और स्टैडर्ड जारी किए थे। मंत्रालय ने कहा है कि केंद्र समय-समय पर ईवी निर्माण और इनके अपनाने के लिए पहल करता रहता है। भारत में वर्तमान में 1,640 सार्वजनिक इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन हैं, जिनमें से 940 ईवी चार्जिंग स्टेशन दिल्ली, हैदराबाद, कोलकाता, चेन्नई, सूरत, अहमदाबाद, बंगलुरू में हैं। इन नौ शहरों में अक्टूबर 2021  और जनवरी 2022 के बीच 678 सार्वजनिक ईवी स्टेशन और जोड़े गए हैं। 

कई अन्य कंपनियां भी आई आगे 

बता दें कि विद्युत मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि सार्वजनिक ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर में काफी विस्तार के साथ इलेक्ट्रिक वाहनों ने भारतीय बाजार में प्रवेश करना शुरू कर दिया है। ऐसे में केंद्र ने निजी और सार्वजनिक एजेंसियों को शामिल करके सार्वजनिक चार्जिंग बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए भरसक प्रयास किए हैं। इसके चलते ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए कई निजी संगठन भी आगे आए हैं। केंद्र सरकार की योजना चरणबद्ध तरीके से अन्य शहरों में कवरेज का विस्तार कर रही है। इसके अलावा आईओसी और बीपी जैसे तेल विपणन कंपनियों ने शहरों और राष्ट्रीय राजमार्गों पर 22,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की घोषणा की है। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने 10,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध किया है। 

आईओसी अगले वर्ष खोलेगा 2,000 चार्जिंग स्टेशन 

यहां बता दें कि एक तरफ बीपीसीएल अन्य 7,000 चार्जर स्थापित करेगी जबकि 5,000 हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन द्वारा स्थापित किए जाएंगे। इंडियन ऑयल कार्पोरेशन ने पहले ही 439 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित कर लिए हैं और अगले वर्ष तक 2,000 स्टेशन और बनाए जाएंगे। भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड ने अब तक 52 स्टेशन स्थापित करने का निर्णय लिया है जबकि एचपीसीएल ने 382 चार्जिंग स्थापित किए हैं। भारी उद्योग विभाग की ओर से हाल ही में 25 हाइवे और एक्सप्रेस-वे के लिए 1,576 सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशनों को मंजूरी दी है। ये चार्जिंग स्टेशन इन राजमार्गों के दोनों किनारों पर प्रत्येक 25 किलोमीटर के दायरे में स्थापित किए जाएंगे। 

ईवी क्रांति को सफल बनाने में जुटी आईओसी 

यहां बता दें कि देश में इलेक्ट्रिक वाहन क्रांति को सफल बनाने के लिए कई नामी कंपनियां जोर-शोर से लगी हुई हैं। इनमें इंडियन ऑयल कार्पोरेशन पूरी तरह से ईवी क्रांति को सक्षम करने में जुट गई है। आईओसी के निदेशक वी. सतीश कुमार ने कहा है कि देश में  ईवी क्रांति की सफलता के लिए हाल ही उसने 1,000 से अधिक ईवी चार्जिंग प्वाइंट्स की सफल तैनाती की है। उन्होंने बताया कि इंडियन ऑयल अगले तीन वर्षों में 10,000 ईंधन स्टेशनों पर ईवी चार्जिंग सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए तैयारी कर ली है। ये इलेक्ट्रिक वाहनों के ग्राहकों की चिंता दूर करने के साथ ही ऑटोमोबाइल निर्माताओं को इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन को बढ़ावा दे रही है। इंडियान ऑयल ने 2017 में सार्वजनिक उपयोग के लिए अपना पहला ईवी चार्जर नागपुर में स्थापित किया था। अब कंपनी के चार्जिंग प्वाइंट कई राज्यों और राष्ट्रीय राजमार्गों सहित 5,000 से अधिक कस्बों और शहरों में मौजूद हैं। इसके अलावा, निगम अगले तीन वर्र्षों में देश भर में राजमार्गों को ई-हाइवे में बदलने के लिए 3,000 से अधिक चार्जिंग स्टेशनों का आधार बनाने की योजना बना रहा है।

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक