मार्च 2022 में अशोक लेलैंड की कुल बिक्री में 17 प्रतिशत की वृद्धि

News Date 02 Apr 2022

मार्च 2022 में अशोक लेलैंड की कुल बिक्री में 17 प्रतिशत की वृद्धि

अशोक लेलैंड के वाणिज्यिक वाहनों की सेल्स रिपोर्ट मार्च 2022

भारत की दूसरी सबसे बड़ी कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड ने वर्ष 2022 के मार्च माह में कुल वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 17 प्रतिशत बढ़ाकर 20,123 इकाई कर ली। वहीं मार्च 2021 में यह 17,231 इकाई थी। इसी तरह से घरेलू बाजार में भी इस कंपनी ने पिछले साल के मुकाबले मार्च 2022 में 18 प्रतिशत अधिक वाहन विक्रय किए। यहां ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में अशोक लेलैंड के वाणिज्यिक वाहनों की सेल्स रिपोर्ट पेश की जा रही है। 

घरेलू बाजार में भी बनाई पैठ 

बता दें कि अशोक लेलैंड कंपनी ने कुल वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री के अलावा घरेलू बाजार में भी खासी पैठ बनाई है। इसने मार्च 2022 में 18,556 वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री की जो पिछले साल की समान अवधि में बेची गई 15,761 इकाइयों की तुलना में 18 प्रतिशत अधिक है। वहीं फरवरी 2022 में बेची गई 14,657 इकाइयों से कंपनी की कुल सीवी बिक्री पिछले महीने 37.29 प्रतिशत ज्यादा रही। 

मध्यम एवं भारी वाहनों की बिक्री में रहा इजाफा 

यहां बता दें कि मध्यम और भारी वाणिज्यिक वाहनों की कुल बिक्री 26 प्रतिशत बढ़कर 13,990 इकाई हो गई, हल्के वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री मार्च 2022 में गत वर्ष इसी समान अवधि की तुलना में 6,133 इकाइयों पर सपाट रही। यहां बता दें कि हिंदुजा समूह की प्रमुख कंपनी अशोक लेलैंड भारत में वाणिज्यिक वाहनों के सबसे निर्माता एवं विश्व स्तर पर बसों और ट्रकों के सबसे बड़े निर्माताओं में से एक है। समेकित आधार पर अशोक लेलैंड ने इस वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही में 121.56 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा दर्ज किया गया, जबकि वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही में 14.24 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। इसी तरह वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही में गत वर्ष की इसी समान अवधि की तुलना में शुद्ध बिक्री 11.79 बढ़ कर 6,627.35 करोड़ रुपये हो गई। 

अशोक लेलैंड कंपनी सीवी निर्माण में अग्रणी 

बता दें कि अशोक लेलैंड भारत की दूसरी सबसे बड़ी वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनी है।  यह कमर्शियल वाहनों के निर्माण में कई अभिनव प्रयोग करती रहती है। यही कारण है कि इस कंपनी के उत्पाद ग्राहकों को लुभाते हैं। इसकी स्थापना सन् 1948 में हुई थी। यह पर्यावरण के अनुकूल तकनीक को अपनाने में सदा आगे रहती है। इसी दिशा में आगे बढ़ते हूए कंपनी ने सन् 2020 से बीएस-6 उत्सर्जन मानकों का अनुपालन करने वाले वाहनों का निर्माण शुरू कर दिया है। यहां यह भी बता दें कि अशोक लेलैंड के कमर्शियल वाहन कम रखरखाव वाले और अधिक विश्वसनीय होते हैं। यह कंपनी  ट्रकों का विनिर्माण मानकों के अनुरूप करती है। इसके वाहनों की गुणवत्ता कई परीक्षणों से गुजरती है। 
 

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   - https://bit.ly/TruckYT

टाटा ऐस गोल्ड पेट्रोल सीएक्स

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक