अशोक लेलैंड बांग्लादेश को करेगा 200 ट्रकों की सप्लाई

News Date 12 Feb 2022

अशोक लेलैंड बांग्लादेश को करेगा 200 ट्रकों की सप्लाई

सरकार के आदेश के तहत अशोक लेलैंड ने की 135 ट्रकों की एडवांस आपूर्ति  

भारत के सबसे करीबी पड़ौसी मुल्क बंग्लादेश से आयात और निर्यात के संबंध हमेशा से रहे हैं। भारत अपने पड़ौसी बंग्लादेश की आपदाकाल में भी सबसे पहले सहायता का हाथ बढ़ाता है वहीं उसकी जरूरत के अनुसार उसके विकास के लिए भारत सरकार कर्ज भी देती है। बता दें कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बंग्लादेश को 2 बिलियन अमरीकी डॉलर के ऋण के हिस्से के रूप में बंग्लादेश सरकार को 200 ट्रकों की आपूर्ति की जा रही है। यह आपूर्ति करने के लिए भारत की सबसे बड़ी वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड ने निविदा जीती है। अशोक लेलैंड ही बंग्लादेश के लिए 200 ट्रकों की आपूर्ति कर रहा है। इसके तहत 135 ट्रकों की सरकार के आदेश के साथ ही की जा चुकी है शेष ट्रकों की भी सप्लाई जल्द की जाएगी। आइए, जानते हैं अशोक लेलैंड की बंग्लादेश के लिए इन ट्रकों के अलावा अशोक लेलैंड कंपनी और कौन-कौनसे ऑटो उपकरण भी निर्यात करती रही है? 

ट्रकों सहित इन उपकरणों की होगी आपूर्ति 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के आदेशानुसार अशोक लेलैंड बंग्लादेश सरकार को कुल 200 ट्रकों की आपूर्ति करेगा। इनमें 135 ट्रकों को पहले ही भेजा जा चुका है। इन ट्रकों को बांग्लादेश के सडक़ एवं राजमार्ग विभाग को सौंपा जा चुका है। कंपनी ने कहा है कि उसने बांग्लादेश सरकार को 3 टी ट्रक, हाइड्रोलिक बीम लिफ्टर और सीवरेज सॉकर की आपूर्ति के लिए निविदा जीती है। 

ये ऑर्डर भी मिले

अशोक लेलैंड कंपनी का कहना है कि बांग्लादेश के लिए हाल ही अशोक लेलैंड को ट्रक माउंटेड व्रेकर की 65 इकाइयों के लिए भी ऑर्डर दिया गया है। यह एक विशेष वाहन है जो बांग्लादेश सरकार की ओर से वहां के कई राजमार्गों पर अनुप्रयोगों के लिए तैनात किया जाना है। गौरतलब है कि बांग्लादेश हमारे प्रमुख निर्यात बाजारों में से एक है। अशोक लेलैंड कंपनी का मानना है कि बांग्लादेश से बढ़ रहे निर्यात के संबंधों से उनकी स्थिति और मजबूत होगी। कंपनी निर्यात सुविधा उपायों से उत्साहित है। 

अशोक लेलैंड बांग्लादेश में अग्रणी सीवी ब्रांड 

अशोक लेलैंड कंपनी बांग्लादेश में अग्रणी वाणिज्यिक वाहन ब्रांडों में एक है। इसके देश भर में 50 से अधिक टच प्वाइंट हैं। बता दें कि भारत से कई वाहनों की आपूर्ति के अलावा कंपनी बांग्लादेश में आईएफएडी ऑटो धामराई संयंत्र में स्थानीय स्तर पर ट्रकों, बसों और एलसीवी वाहनों की श्रृंखला को भी असेंबल करती है।

जोखिम कम करने के लिए निर्यात पर फोकस  

यहां बता दें कि अशोक लेलैंड भारतीय बाजार में चक्रीयता से जोखिम  कम करने के लिए निर्यात पर लगातार फोकस कर रहा है। कंपनी के इंटरनेशनल ऑपरेशन के प्रमुख अमनदीपसिंह ने कहा है कि हम विदेशी बाजारों, विशेष रूप से सार्क, जीसीसी और अफ्रीका में अपने वॉल्यूम एवं पदचिह्नों को और आगे बढ़ाने की योजना बना रहे हैं। हमारा फोकस निर्यात पर है।

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें। 

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

टाटा ऐस गोल्ड पेट्रोल सीएक्स

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक