बजाज ऑटो ने दिखाया बड़ा दिल, कर्मचारी की मौत पर परिवार को मिलेगा 2 साल तक वेतन

बजाज ऑटो ने दिखाया बड़ा दिल, कर्मचारी की मौत पर परिवार को मिलेगा 2 साल तक वेतन

कर्मचारियों के लिए कोविड-19 राहत पैकेज, बच्चों की पढ़ाई-खिलाई के लिए भी फंड मिलेगा

देश की दिग्गज ऑटोमोबाइल कंपनी बजाज ऑटो ने अपने नाम के अनुरूप कर्मचारियों के हित में बड़ा फैसला किया है। बजाज ऑटो ने फैसला किया है कि जिन कर्मचारियों की कोविड-19 के कारण मौत हुई है उनके परिवार को कंपनी की ओर से दो साल तक सैलरी दी जाएगी। इसके अलावा बच्चों की पढ़ाई-लिखाई के लिए अलग से फंड दिया जाएगा। ये सहायता नीति 1 अप्रैल, 2020 से सभी स्थायी कर्मचारियों के लिए लागू होगी।


बजाज की कोविड-19 सहायता नीति में कर्मचारियों को मिलेगा ऐसे फायदा

बजाज ऑटो ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जारी कर कहा है कि सहायता नीति के तहत 24 महीने के लिए प्रति माह 2 लाख रुपए तक के मासिक वेतन का भुगतान, अधिकतम दो बच्चों के लिए 12वीं कक्षा तक प्रति वर्ष प्रति बच्चा 1 लाख रुपये की शिक्षा सहायता और स्नातक के लिए प्रति बच्चे प्रति वर्ष 5 लाख रुपए की मदद की जाएगी। पुणे स्थित बजाज ऑटो ने एक बयान में कहा कि कंपनी की तरफ से दिया गया मेडिकल बीमा भी आश्रितों के लिए पांच साल तक बढ़ाया जाएगा। ये लाभ बजाज ऑटो द्वारा पेश किए गए दूसरे जीवन बीमा लाभ से ऊपर और ज्यादा है।


कोविड के खिलाफ उपचार में सहायता करेगी कंपनी

बजाज ऑटो ने आगे ये भी स्पष्ट किया कि यह सहायता नीति 1 अप्रैल, 2020 से सभी स्थायी कर्मचारियों के लिए लागू है। बजाज ऑटो ने कहा कि एक कर्मचारी-केंद्रित संगठन के रूप में, हम अपने सभी कर्मचारियों को विभिन्न उपायों और पहलुओं के माध्यम से निरंतर सहायता प्रदान करते रहेंगे, जो केवल वैक्सीनेशन सेंटर तक ही सीमित नहीं हैं, बल्कि कोविड केयर सर्विस, एक्टिव टेस्टिंग और अस्पताल में भर्ती के लिए सहायता भी देते हैं।


कोरोना की दूसरी लहर में बजाज ऑटो की सहायता

कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ इस जंग में हर कोई अपने स्तर से सहायता कर रहा है। इसी कड़ी में बजाज ऑटो ने कर्मचारियों के हित में ये फैसला किया है। वहीं बजाज ग्रुप देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर से लड़ने के लिए 200 करोड़ रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा कर चुका है। पिछले साल कंपनी ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 100 करोड़ रुपए की राशि का दान किया था। 


ऑक्सीजन सप्लाई में बजाज ऑटो का योगदान

बजाज ग्रुप ने यह भी बताया कि कंपनी ने 12 ऑक्सीजन प्लांट तैयार किये है। इन प्लांट से कंपनी प्रति मिनट 5000 लीटर मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन कर रही है। बजाज ने बताया कि कंपनी शहरी और ग्रामीण इलाकों के अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई कर रही है।


बजाज को अप्रैल माह की बिक्री में 30 फीसदी का घाटा

बजाज ऑटो ने कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण बिक्री में कमी होने के बावजूद देश व कर्मचारियों के हित में फैसले लिए हैं जो सराहनीय है। बजाज ऑटो ने बीते अप्रैल महीने की बिक्री रिपोर्ट में बताया कि पिछले महीने कुल 3 लाख 89 हजार 16 यूनिट वाहनों की बिक्री हुई है जिसमे दोपहिया और तिपहिया वाहन शामिल हैं। पिछले महीने बजाज ने घरेलू बाजार में कुल 1 लाख 26 हजार 579 यूनिट वाहनों की बिक्री की जो मार्च की बिक्री की तुलना में 30 प्रतिशत कम है। वहीं कंपनी ने 2 लाख 21 हजार 603 यूनिट वाहनों की एक्सपोर्ट के साथ निर्यात में 48 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है।


कर्मचारियों की सहायता के लिए कई कंपनियां आगे आई

कोविड-19 की दूसरी लहर में कर्मचारियों की सहायता के लिए कई कंपनियां आगे आ चुकी हैं। इससे पहले मई माह में बोरोसिल और बोरोसिल रिन्यूएबल्स ने अपने कर्मचारियों के लिए इसी तरह की सहायता नीति शुरू की थी। मुंबई स्थित इस ग्लासवेयर कंपनी ने कहा कि कोविड-19 के कारण जान गंवाने वाले उसके कर्मचारी के परिवार को अगले दो साल तक वेतन मिलता रहेगा। इसके अलावा, बोरोसिल ने भारत में स्नातक होने तक कर्मचारी के बच्चों की शिक्षा के लिए पैसा देने का भी वादा किया था।

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक