ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक ने पहला हैवी ड्यूटी इलेक्ट्रिक ट्रक लॉन्च किया

News Date 21 Apr 2022

ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक ने पहला हैवी ड्यूटी इलेक्ट्रिक ट्रक लॉन्च किया

हैवी ड्यूटी ओलेक्ट्रा इलेक्ट्रिक टिपर का ट्रायल हुआ शुरू  

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के प्रति लोगों का जैसे-जैसे रुझान बढ़ रहा है वैसे-वैसे देश की विभिन्न वाहन निर्माता कंपनियां भी इलेक्ट्रिक सेगमेंट की ओर रुख कर रही हैं। वहीं दूसरी ओर केंद्र एवं राज्य सरकारों की ईवी पॉलिसी के अंतर्गत  दिए जा रहे प्रोत्साहन के कारण भी इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) का उत्पादन और बिक्री में इजाफा हो रहा है। बता दें कि औद्योगिक समूह एमईआईएल के हिस्से के रूप में ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड कंपनी ने हाल ही अपने इलेक्ट्रिक ट्रक सेगमेंट का विस्तार करते हुए हैवी ड्यूटी इलेक्ट्रिक टिपर का परीक्षण भी शुरू कर दिया है। यहां ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में आपको ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड कंपनी के इलेक्ट्रिक ट्रक निर्माण की पूरी जानकारी दी जा रही है,इसके साथ ही बताएंगे इस इलेक्ट्रिक टिपर की विशेषताएं क्या हैं? 

बसों के बाद अब इलेक्ट्रिक ट्रक भी बनाएगी ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक

यहां बता दें कि औद्योगिक समूह एमईआईएल की सहायक कंपनी ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड अभी तक इलेक्ट्रिक बसों का निर्माण करती थी। बस निर्माण में अग्रणी रही ओलेक्ट्रो ग्रीनटेक लिमिटेड ने हैदराबाद के बाहरी इलाके में अत्याधुनिक सुविधा विनिर्माण के विस्तार की योजना तैयार की है। यही नहीं कंपनी ने इलेक्ट्रिक ट्रक सेगमेंट के विस्तार के हिस्से के तौर पर 6x4 हैवी ड्यूटी इलेक्ट्रिक टिपर का परीक्षण भी शुरू कर दिया है। फर्म ने एक बयान में कहा है कि इलेक्ट्रिक बस निर्माण में अग्रणी रहने और मार्केट लीडर ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक कंपनी ने इलेक्ट्रिक ट्रक निर्माण में प्रवेश कर लिया है। 

एक बार चार्ज करने पर चलेगा 220 किलोमीटर

बता दें कि ओलेक्ट्रा इलेक्ट्रिक टिपर एक बार चार्ज करने पर 220 किलोमीटर तक चल सकता है। एक हैवी ड्यूटी बोगी सस्पेंशन टिपर के साथ बनाए गए इस टिपर ट्रक में 25 प्रतिशत से अधिक की ग्रेडेबिलिटी को प्रतिबंधित करने की क्षमता है। यह ऊंचाई वाली सडक़ों पर ढलानों को स्केल कर सकता है। कंपनी ने इस टिपर का सफलतापूर्वक परीक्षण शुरू कर दिया है। जल्द ही हैदराबाद प्लांट में विनिर्माण को बढ़ाया जाएगा। 

ओलेक्ट्रा टिपर होगा इलेक्ट्रिक सेगमेंट में गेम चेंजर 

कंपनी का दावा है ओलेक्ट्रा टिपर अपनी तरह का पहला ऐसा इलेक्ट्रिक ट्रक होगा जो इस सेगमेंट में गेम चेंजर साबित होगा। इस ट्रक की लांचिंग सेरेमनी के अवसर पर कंपनी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक केवी प्रदीप ने कहा कि भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में अग्रणी होने के कारण ओलेक्ट्रा ने अब हैवी ड्यूटी टिपर ट्रायल शुरू कर दिया है। इसकी यह सफलता कंपनी के लिए गर्व का अनुभव कराती है। 

इस इलेक्ट्रिक टिपर में हैं कई सुपर विशेषताएं 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड कंपनी की ओर से लांच किए गए ओलेक्ट्रा टिपर में कई सुपर प्रदर्शन की विशेषताएं हैं। चूंकि यह बाजार लागत को प्रभावी बनाता है इसलिए ओलेक्ट्रा ने इसे अपने सपने को साकार कर ऐसा ही बनाया है। गौरतलब है कि ओलेक्ट्रा ई- टिपर में भार वहन क्षमता भी अधिक है। इसे हैवी ड्यूटी इलेक्ट्रिक टिपर नाम दिया गया है। वर्तमान में डीजल और पेट्रोल की लगातार बढ़ती कीमतों के कारण इलेक्ट्रिक ट्रक ईंधन की बचत के लिए उपयोगी साबित होंगे। 

जानें ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक कंपनी के बारे में 

यहां बता दें कि ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक, भारत के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक बसों के निर्माता के रूप में हैदराबाद के बाहरी क्षेत्र में स्थित इलेक्ट्रिक बस फैक्ट्री है। इसने हाल ही इलेक्ट्रिक ट्रक सेगमेंट में भी प्रवेश किया है। स्वच्छ गतिशीलता के एक बड़े हिस्से को प्राप्त करने की योजना के तहत मेगा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रैक्चर लिमिटेड का एक हिस्सा ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक ने चीन के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी बीवाईडी से तकनीकी सहायता के साथ अपनी बसों का विकास किया है। यह कंपनी वर्ष 2000 में स्थापित हुई। इसने 2015 में भारत में इलेक्ट्रिक बसों का निर्माण शुरू किया। 

इलेक्ट्रिक ट्रकों को अपनाना क्यों है जरूरी 

वर्तमान में प्रदूषण की समस्या से निजात पाने के लिए सबसे कारगर उपाय है शून्य उत्सर्जन के लक्ष्य की ओर ले जाने वाले इलेक्ट्रिक वाहन। इसके अलावा दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें ईंधन की लागत डीजल और पेट्रोल के मुकाबले कम होती है। ये किफायती होते हैं। भारत में सबसे अधिक माल परिवहन ट्रकों से ही होता है इसलिए जरूरी है कि ट्रक भी इलेक्ट्रिक सेगमेंट में हों। बता दें कि पिछले दिनों से भारत में इलेक्ट्रिक ट्रकों का प्रचलन लगातार बढ़ रहा है। लिथियम ऑयन बैटरी के लांच होने के बाद तो इलेक्ट्रिक ट्रकों के निर्माण के लिए एक के बाद एक इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनियां ट्रक निर्माण के लिए निवेश कर रही हैं। ऑटो रिक्शा, थ्री व्हीलर और मिनी ट्रक के बाद अब हैवी ड्यूटी ट्रक भी इलेक्ट्रिक बनने लगे हैं। 

ये हैं भारत के टॉप इलेक्ट्रिक मॉडल 

बता दें कि भारत में इलेक्ट्रिक ट्रकों के निर्माण के लिए कई शीर्ष कंपनियों ने अपने संयंत्र लगाए हैं। इनके मॉडल भी आ गए हैं। इनमें टाटा मोटर्स की ओर से टाटा अल्ट्रा टी-7, पियाजियो आपे ई सिटी / फिक्स्ड बैटरी, पियाजियो आपे ई एक्स्ट्रा, लोहिया नारायण कार्गो प्रमुख हैं। इनके अलावा हाल ही ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक कंपनी ने भी इलेक्ट्रिक टिपर ट्रक लांच किया है। इनके अलावा कार्गो इलेक्ट्रिक ट्रकों मे काइनेटिक सुपर स्मार्ट थ्री व्हीलर, महिंद्रा सुपर कार्गो वैनमिनी ट्रक, अतुल एलीट कार्गो थ्री व्हीलर, पियाजियो आपे ई सिटी थ्री व्हीलर और महिंद्रा ट्रेओ जोर ट्रक श्रेष्ठ मॉडलों में शुमार हैं। 

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   - https://bit.ly/TruckYT

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक