दिल्ली एनसीआर में 200 ईवी चार्जिंग स्टेशन होंगे स्थापित

News Date 30 Nov 2021

दिल्ली एनसीआर में 200 ईवी चार्जिंग स्टेशन होंगे स्थापित

मेटल स्क्रैप प्रोसेसिंग और रीसाइक्लिंग कंपनी नूपुर रिसाइकलर्स ने की घोषणा 

दिल्ली एनसीआर को प्रदूषण मुक्त करने के लिए दिल्ली सरकार की ओर से कई तरह के प्रयास चल रहे हैं। इन प्रयासों में इलेक्ट्रिक वाहनों के चलन और बिक्री को बढ़ावा दिया जाना भी मुख्य है। जाहिर है कि जब इलेक्ट्रिक वाहनों का अधिक संचालन होगा तो इन वाहनों के लिए चार्जिंग सुविधाओं का विस्तार भी जरूरी है। इसके लिए सरकारी स्तर पर निजी क्षेत्र की ओर से संयुक्त प्रयास हो रहे हैं। इसी के परिणामस्वरूप मेटल स्क्रैप प्रोसेसिंग और रीसाइक्लिंग कंपनी नूपुर रिसाइकलर्स ने भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल क्षेत्र में नई पहल की है। कंपनी की ओर से दिल्ली एनसीआर में 200 ईवी चार्जिंग प्वाइंट एवं बैटरी स्वैपिंग स्टेशनों की स्थापना की जाएगी। आइए, जानें नूपुर रिसाइकलर्स कंपनी की कार्ययोजना क्या है?  इसका लोगों एनसीआर क्षेत्र के लोगों को क्या लाभ मिल सकता है। 

स्वैप स्टेशन की द्वारका क्षेत्र से हुई शुरूआत 

मेटल स्क्रैप प्रोसेसिंग और रीसाइक्लिंग कंपनी नूपुर रिसाइकलर्स ने दिल्ली एनसीआर में चार्जिंग स्टेशन खोलने की घोषणा के साथ ही द्वारका में चार्जिंग प्वाइंटस् की स्थापना के बारे में जानकारी दी है कि यहां पहले से ही चार्जिंग प्वाइंट्स शुरू कर दिए गए थे। जल्द ही अन्य क्षेत्रों मेंं भी इस तरह के चार्जिंग प्वाइंटस की स्थापना की जाएगी। यही नहीं इलेक्ट्रिक टू व्हीलर और थ्री व्हीलर या ई रिक्शा एवं इलेक्ट्रिक व्हीलर्स के  लिए चार्जिंग सुविधाओं का विस्तार होगा। 

पर्यावरण संरक्षण की स्थिरता को प्राथमिकता 

दिल्ली के पर्यावरण को संरक्षित करने की एक और पहल नूपूर रिसाइकलर्स ने की है। कंपनी के संस्थापक राजेश गुप्ता ने कहा है कि हमारा लक्ष्य इस इस संक्रमण को तेजी से ट्रैक करना है और पूरे पारिस्थितिकी तंत्र को विश्वसनीय और भरोसेमंद चार्जिंग इंफ्रास्ट्रैक्चर के साथ सक्षम करना है। यह एक शुरूआत भर है। हम पर्यावरण की स्थिरता को प्रोत्साहित करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। 

ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रैक्चर के विस्तार की जरूरत 

आपको यह बता दें कि पिछले कुछ समय से ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रैक्चर पिछड़ रहा है। इसके बुनियादी ढांचे को मजबूती प्रदान करना और इसके बाद इसके विस्तार की जरूरत बनी हुई है। जिस गति से पिछले कुछ वर्षों में इलेक्ट्रिक वाहनों के संचालन में वृद्धि हुई है उस हिसाब से ईवी चार्जिंग स्टेशन एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं का विस्तार नहीं हो पाया है। इसके लिए केवल सरकारी प्रयासों पर ही निर्भर नहीं रहना चाहिए। निजी क्षेत्र को भी इसमें पहल करने की आवश्यकता है। इसी के तहत नूपुर रिसाइकलर्स कंपनी ने दिल्ली के एनसीआर में 200 चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की घोषणा की है। 

दिल्ली सरकार ईवी खरीदने पर देगी सब्सिडी 

बता दें दिल्ली में प्रदूषण को नियंत्रित करने की दिशा में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही देहली इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी की घोषणा की है। इस पॉलिसी के अंतर्गत इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने पर सरकार की ओर से आकर्षक प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इससे ज्यादा से ज्यादा लोग इलेक्ट्रिक वाहन खरीदगें। यह प्रोत्साहन राशि 30,000  रुपये से लेकर 1,00,000 रुपये तक होगी। जानकारी के लिए बता दें कि वर्तमान में दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन मात्र 2 प्रतिशत है। सरकार का उद्देश्य है कि वर्ष 2024 तक इस पॉलिसी के माध्यम से 25 प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहन लाना चाहती है। 

किस वाहन पर कितनी मिलेगी सब्सिडी 

दिल्ली सरकार की नई इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पॉलिसी के अंतर्गत जो सब्सिडी दी जाएगी वह इस प्रकार तय की गई है। 
1. ई ऑटो रिक्शा- 30,000 रुपये अधिकतम 
2. माल वाहक छोटे वाहन- 30,000 रुपये अधिकतम 

इनके अलावा कार और अन्य वाहनों पर निर्धारित सब्सिडी प्रदान की जाएगी जो अधिकतम 1 लाख रुपये तक है।

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक ट्रक या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें। 

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram- https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

Mahindra Bolero Maxitruck Plus

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक