अशोक लेलैंड इलेक्ट्रिक व्हीकल सेक्टर में करेगा इन्वेस्टमेंट

News Date 16 Sep 2022

अशोक लेलैंड इलेक्ट्रिक व्हीकल सेक्टर में करेगा इन्वेस्टमेंट

अशोक लेलैंड दो टन और साढ़े तीन टन इलेक्ट्रिक वाहन लांच करेगी 

देश की प्रमुख वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड जल्द ही इलेक्ट्रिक व्हीकल्स सेक्टर में निवेश करेगा। इसके लिए योजना बनाई जा रही है। ईंधन विकल्प के रूप में अशोक लेलैंड पहले दो टन और साढ़े तीन टन से कम वजन वाले इलेक्ट्रिक वाहन लांच करेगी। यह घोषणा कंपनी मुख्य प्रोद्योगिक अधिकारी एन सरवनन ने सीएनबीसी-टीवी 18 के साथ एक विशेष साक्षात्कार में की। उन्होंने कहा है कि अगले छह से आठ महीनों में कंपनी इस योजना को साकार कर नये इलेक्ट्रिक वाहन लांच करेगी। ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में आपको अशोक लेलैंड की इस नई योजना के बारे में पूरी जानकारी दी जा रही है।

अल्टरनेटिव फ्यूल उत्पादों अशोक लेलैंड की पूरी रेंज 

बता दें अशोक लेलैंड एक स्विच के जरिए ना सिर्फ इलेक्ट्रिक सेगमेंट बल्कि सीएनजी, एलएनजी, हाइड्रोजन सहित वैकल्पिक ईंधन में उत्पादों की पूरी श्रृंखला चाहता है। अगस्त 2022 में हिंदुजा समूह की प्रमुख कंपनी ने ऐसा कहा था। वहीं सीएनबीसी-टीवी 18 के साथ इंटरव्यू में कंपनी के मुख्य प्रोद्योगिकी अधिकारी सरवनन ने कहा कि कंपनी हाइड्रोजन ईंधन और इसकी कई टैक्नॉलॉजी पर काम कर रही है। कंपनी प्रबंधन को उम्मीद है कि विकास की गति जारी रहेगी और हैवी ड्यूटी कमर्शियल वाहनों की बिक्री में तेजी आएगी। इसके साथ ही अशोक लेलैंड सीएनजी रेंज में वाहनों के नये सेट पर काम कर रहा है।

एक साल की कार्य योजना

अशोक लेलैंड अगले एक साल में इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र एवं वैकल्पिक ईंधन में उच्च टन भार वाले वाहनों की अवधारणाओं एवं प्रारंभिक लांचिंग की योजना है। वहीं एलएनजी वाहनों के आर्डर मिलने में अभी कई साल लग सकते हैं।

अशोक लेलैंड की घरेलू बिक्री में 58 प्रतिशत वृद्धि रही

अशोक लेलैंड ने अपनी बिक्री रिपोर्ट में अगस्त 2022 में घरेलू बिक्री में 58 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कराई वहीं 13,301 इकाइयों की बिक्री की। यह बिक्री इसी अवधि में बेची गई 8,400 इकाइयों से अधिक थी। कंपनी ने कहा कि कमर्शियल वाहनों के बड़े समूह पुराने वाहनों को बदलकर नये वाहन जोड़ रहे हैं, इस प्रकार सीवी के लिए प्रतिस्थापन की मांग बढ़ रही है। बस सेगमेंट में भी मजबूत मांग देखी जा रही है। इसके अलावा आईसीवी से अधिक भार वाले कमर्शियल वाहनों में बदलाव किया गया है। इसके अलावा सीएनजी, सीवी की मांग डीजल वेरिएंट में स्थानांतरित हो गई है।

जानें, अशोक लेलैंड कंपनी के बारे में

अशोक लेलैंड कंपनी भारत में दूसरी सबसे बड़ी कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी है। यह हिंदुजा समूह की ब्रांड है। इसकी स्थापना 1948 में की गई थी। तब से लेकर अब तक यह एक से एक नये ट्रक और बसों के साथ अन्य कमर्शियल व्हीकल्स का उत्पादन कर रही है। अशोक लेलैंड के ट्रक पर्यावरण के अनुकूल होते हैं। ये बीएस 6 एमिशन के साथ निर्मित हैं। कंपनी पिकअप, मिनी ट्रक, ट्रैक्टर टिपर, ट्रांजिट मिक्सर आदि वाहनों का उत्पादन कर रही है। इसके कई नये मॉडल खासे लोकप्रिय हो रहे हैं जैसे एवीटीआर रेंज आदि। ग्राहक इसकी सेवाओं से पूरी तरह संतुष्ट रहते हैं। अशोक लेलैंड अब इलेक्ट्रिक सेगमेंट में भी अधिक इन्वेस्टमेंट करने की योजना बना रही है। अशोक लेलैंड के भारत में 9 स्थानों पर 550 से अधिक टच प्वाइंट हैं जहां ग्राहकों को इसके वाहनों की सर्विस एवं पार्ट्स की सेवा उपलब्ध रहती है।

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook  - https://bit.ly/TruckFB
Instagram -  https://bit.ly/TruckInsta
Youtube     -  https://bit.ly/TruckYT

Tata Yodha Pickup

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Tata Signa 1918K
Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक