डेमलर इंडिया कमर्शियल वाहनों की बिक्री का नया रिकॉर्ड बनाने की तैयारियों में जुटी

News Date 11 Jun 2022

डेमलर इंडिया कमर्शियल वाहनों की बिक्री का नया रिकॉर्ड बनाने की तैयारियों में जुटी

डेमलर इंडिया कंपनी जल्द ही डीलर नेटवर्क का विस्तार करेगी

भारत में वाणिज्यिक वाहनों के निर्माण में डेमलर इंडिया की अपनी विशिष्ट पहचान है। इसके ट्रक एवं अन्य कमर्शियल वाहनों की विशेषताओं एवं गुणवत्ता के कारण ग्राहकों की विश्वसनीयता लगातार बढ़ती जा रही है। इससे उत्साहित होकर कंपनी अपने डीलर नेटवर्क का विस्तार करने जा रही है वहीं कई नये मॉडल भी निकट भविष्य में लांच करेगी। वहीं कमर्शियल वाहनों के बाजार की चुनौतियां ठीक होने पर कंपनी अब इसका जम कर फायदा उठाना चाहती है। बता दें कि डेमलर इंडिया वर्ष 2018 में अपनी चरम बिक्री 22,000 इकाइयों के रिकार्ड को तोड़ कर नया कीर्तिमान स्थापित करने की तैयारियों में जुट गई है।  इसके लिए डेमलर ने वैकल्पिक ईंधन पर भी काम करना शुरू कर दिया है। इस संबंध में कंपनी के शीर्ष कार्यकारी का कहना है कि डेमलर ट्रक्स की भारत की सहायक कंपनी का लक्ष्य 2018 की चरम बिक्री को हराना है क्योंकि वाणिज्यिक वाहन सीवी बाजार चुनौतीपूर्ण तीन वर्षों बाद ठीक हो गया है। यहां आपको ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में डेमलर इंडिया की भावी योजनाओं और कमर्शियल वाहनों की बिक्री सुधार कार्यक्रमों की पूरी जानकारी दी जा रही है।

भारत बेंज ट्रकों और बसों की घरेलू बिक्री 48 प्रतिशत बढ़ी

यहां बता दें कि डेमलर इंडिया की ही सहायक ब्रांड कंपनी भारत बेंज की वर्ष 2022 में ट्रकों और बसों की घरेलू बिक्री 48 प्रतिशत बढ़कर 14,222 इकाई हो गई। इस कंपनी को  भारत में स्थापित हुए पूरा एक दशक हो गया है। उधर डेमलर इंडिया कमर्शियल व्हीकल्स के प्रबंध निदेशक और सीईओ सत्यकाम आर्य ने कहा है कि हैवी ड्यूटी सेगमेंट में नये मॉडलों की लांचिंग और आक्रामकता विस्तार से विकास को बढ़ावा मिलेगा। सीवी बाजार में तीन बहुत चुनौतीपूर्ण वर्षों के बाद एक बहुत ही मजबूत वसूली चक्र है। हम 2018 की संख्या को पार करेंगे जो कि शिखर था। हमारी आकांक्षा इससे आगे जाने की है, भले ही बाजार नहीं कर सके। सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स के अनुसार मार्च 2022 में समाप्त हुए वर्ष में भारत में सीवी की बिक्री बढ़ कर 716,566 यूनिट हो गई जो कि एक साल पहले की अवधि में 5,68,559 यूनिट थी। अधिकांश सीवी निर्माता एक अप साइकिल के लिए तैयार हैं और उम्मीद कर रहे हैं उद्योग वित्त वर्ष 2018 की बिक्री मात्रा को पार कर जाएगा, जब कुल उद्योग की मात्रा 856,916 इकाइयों के करीब थी।

अगले कलेंडर वर्ष के अंत तक बिक्री नेटवर्क 350 होगा

यहां बता दें  डेमलर इंडिया कंपनी का लक्ष्य बिक्री नेटवर्क का विस्तार करना है। इसके लिए कंपनी जो टारगेट लेकर चल रही है उसके मुताबिक आगामी कलेंडर वर्ष के अंत तक बिक्री नेटवर्क 275 से बढ़ाकर 330 या 350 करने का है। इस बीच नये उत्पादों के साथ अपने मध्यम और भारी वाणिज्यिक वाहन पोर्टफोलियो में व्हाइट स्पेस को प्लग करने की योजना है। बिक्री के हिसाब से तीसरा सबसे बड़ा हैवी ड्यूटी ट्रक निर्माता जो 10 से 55 टन सेगमेंट का संचालन करता है। इसके साथ की कंपनी की जो अन्य व्यापक तैयारियां चल रही हैं उनमें अगले साल के अंत तक खुद को पेपरलेस कंपनी में परिवर्तित करना है। सभी क्षेत्रों में डिजीटलीकरण लागू होगा।

इन स्पर्धाओं से दूर रहेगी डेमलर इंडिया कमर्शियल लिमिटेड

यहां आपको डेमलर इंडिया कमर्शियल लिमिटेड कंपनी की उस योजना के बारे में भी बता दें कि जिसमें वह दो प्रतिद्वन्द्वी टाटा मोटर्स और अशोक लेलैंड की तरह आक्रामक नहीं बनना चाहती। कंपनी के सीईओ सत्यकाम आर्य ने कहा है कि प्राकृतिक गैस, इलेक्ट्रिक, संपीडित गैस हाइड्रोजन सहित अन्य प्रोद्योगिकियों पर काम कर रही है लेकिन इलेक्ट्रिक बस या ट्रक लांच करने में कोई जल्दबाजी नहीं बरती जाएगी। कुल मिलाकर कंपनी थोड़े समय वाले निर्णय नहीं लेगी।

जानें, डेमलर इंडिया के बारे में

बता दें कि डेमलर इंडिया कमर्शियल व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड कंपनी जर्मन डेमलर ट्रक एजी की सहायक कंपनी है। यह कंपनी  भारतीय ग्राहकों की मांगों को पूरा करने वाले वाणिज्यिक वाहनों का डिजायन, निर्माण और बिक्री करती है। इस कंपनी के सीईओ सत्यकॉम आर्य हैं। कंपनी का मुख्यालय चेन्नई में है। इसकी स्थापना वर्ष 2011 में हुई थी। डेमलर इंडिया की सहयोगी कंपनी भारत में भारतबेंज है। पूरे विश्व में एकमात्र डेमलर इकाई है जिसका ब्रांड अपने घरेलू बाजार भारतबेेंज के लिए समर्पित है। जर्मन डीएनए के साथ भारतीय इंजीनियरिंग का एक अनोखा संयोजन, स्थानीय ग्राहकों की आवश्यकताओं के अनुरूप भारतबेंज स्वामित्व, सुरक्षा और विश्वसनीयता एवं आराम की कुल लागत प्रदान करता है।

डेमलर इंडिया के ट्रक सभी भार श्रेणियों में बेहतर

यहां डेमलर कमर्शियल व्हीकल लिमिटेड कंपनी के बारे में बता दें कि इसके द्वारा निर्मित ट्रक 9 से 49 टन तक के होते हैं। इनमें सभी भार क्षमता वाली श्रेणियां शामिल हैं। डेमलर की सहायक कंपनी भारतबेंज इन ट्रकों को भारतीय बाजार के लिए तैयार करती है लेकिन पूरी दुनिया में डेमलर के ट्रकों की मांग रहती है। कंपनी हमेशा  से ऑटोमोबाइल को गुणवत्ता, सुरक्षा एवं आराम के लिए अग्रणी वाहनों के तौर पर प्राथमिकता देती आई है इसीलिए ट्रकिंग के क्षेत्र मे यह कंपनी भारत में दस साल पूरे कर निरंतर आगे बढ़ रही है।

डेमलर इंडिया के पास सुपर एलिवेशन ट्रैक

यहां बता दें कि डेमलर इंडिया के पास जो विजन है वह अन्य कंपनियों के पास नहीं है। वह कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक समय-समय पर आंतरिक सर्वे कराती है और ट्रकों के ग्राहकों पर शोाध कराती है। वहीं कंपनी के पास एक सुपर एलिवेशन ट्रैक है जो अलग-अलग गति से परीक्षण को सफल बनाता है एवं विश्वसनीयता की शक्ति को बढ़ाता है।

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   - https://bit.ly/TruckYT

टाटा एस गोल्ड एचटी प्लस

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक