ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की व्यवस्था बदली: रात 10 बजे तक होंगे ड्राइविंग टेस्ट

News Date 27 Aug 2021

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की व्यवस्था बदली: रात 10 बजे तक होंगे ड्राइविंग टेस्ट

ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया में हो रहा सुधार, लंबी वेटिंग से मिलेगी निजात

सरकार ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया में लगातार सुधार कर रही है। जल्द से जल्द ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए सरकार ने एक अहम फैसला किया है। राजधानी दिल्ली में ड्राइविंग लाइसेंस की मांगों में तेजी आई है। प्रशिक्षु ड्राइवर की संख्या भी लगातार बढ़ रही है, जिसे देखते हुए दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (डीटीसी) ने रात 10 बजे तक ड्राइविंग टेस्ट लेने का फैसला किया है। I प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए यह फैसला सराहनीय है। प्रशिक्षु ड्राइवरों की भी लंबे समय से मांग थी कि ड्राइविंग लाइसेंस की प्रक्रिया में सुधार करते हुए, जल्द से जल्द ड्राइविंग लाइसेंस निर्गत करने हेतु कुछ कदम उठाया जाए। ताकि प्रदेश के युवा को रोजगार मिलने से देरी न हो और जल्द से जल्द वे काम पर जा सकें।

पर्याप्त रोशनी की होगी व्यवस्था

रात को भी ड्राइविंग टेस्ट देने में किसी प्रकार की समस्या न हों इसके लिए ट्रैक पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था होगी। सभी ट्रैक ऑटोमेटेड होंगे, ताकि ड्राइवर को टेस्ट देने में सुविधा रहे। जितने भी जोनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी रहेगी, उस पर उच्च क्षमता वाले लाइट लगाए जाएंगे। लाइटिंग की व्यवस्था ऐसी की जायेगी कि बिलकुल दिन जैसा माहौल हो। दिवाली से पहले लाइटिंग का कार्य शुरू कर दिया जायेगा। और इसे जल्द से जल्द पूरा भी कर लिया जाएगा। दिल्ली में ड्राइविंग टेस्ट के आवेदनों को लाइन लगी है। टेस्ट के लिए लंबी वेटिंग बन चुकी है, जिसे देखते हुए यह कदम उठाया गया है।

कुछ महीनो तक ही रात में टेस्ट लिया जायेगा।

डीएल की बढ़ती मांग को देखते हुए डीटीसी ने यह तय किया है कि अगले कुछ महीनों तक रात में भी ड्राइविंग टेस्ट लिया जायेगा। इससे ड्राइविंग टेस्ट के लिए लिया जाने वाले वेटिंग टाइम कम होगा। लेकिन डीटीसी ने बताया, फिलहाल कुछ महीनो तक ही तीव्र स्तर पर कार्य चलेगा, लेकिन यदि मांग और भी ज्यादा बढ़ती है तो रात में ड्राइविंग टेस्ट प्रक्रिया को और भी लंबे समय तक बढ़ाया जा सकता है। दिल्ली परिवहन विभाग ने कहा, ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) जल्द से जल्द निर्गत हो इसके लिए वे कई प्रयास कर रहे हैं। विभाग ने बताया कि अब लोगों के वेटिंग को कम करने के लिए कई प्रकार के इनोवेशन तो किए ही जा रहे हैं। इसके साथ साथ विभाग ने कहा रविवार को भी टेस्ट लिए जा रहे हैं जिससे लंबी वेटिंग लिस्ट कम हो रही है।

ड्राइविंग के दौरान आरसी और लाइसेंस की हार्ड कॉपी रखने की अनिवार्यता खत्म

दिल्ली परिवहन विभाग ने दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में डिजिटल वाहन दस्तावेजों को रखने की अनुमति दी है। वाहन के कागजात एवं ड्राइविंग लाइसेंस के हार्ड कॉपी रखने की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है। हार्डकॉपी की जगह अब डिजिलॉकर जैसे सरकारी अनुमोदित ऐप के माध्यम से आप अपने कागजात रख सकते हैं। और उसे अधिकारियों के पास पेश भी कर सकते हैं। अगर आप डिजिलॉकर और एम - परिवहन जैसे ऐप में सुरक्षित दस्तावेज पुलिस को दिखाने पर वो आपको मूल दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए बाध्य नहीं कर सकती। परिवहन विभाग ने सूचना जारी करते हुए कहा है कि इन अनुमोदित ऐप्स में सुरक्षित सभी दस्तावेज वैध माने जायेंगे। यह विभाग द्वारा जारी प्रमाणपत्र के समकक्ष मान्यता का माना जायेगा। मोटर वाहन अधिनियम 1988 के तहत इन्हें वैधता दी गई है।

15 दिनो के भीतर ई - चालान होगा जारी

परिवहन मंत्रालय ने जुर्माना के नियमों में भी सुधार किया है, चालान के मामले में तुरंत करवाई हेतु नया नियम लागू कर दिया गया है। इसके अंतर्गत पुलिस किसी भी ट्रैफिक नियम उल्लंघन करने पर 15 दिन के भीतर इलेक्ट्रोनिक चालान कर पाएगी। स्पीड कैमरा, और विभिन्न आधुनिक दर्शी यंत्र से यातायात की निगरानी की जायेगी। जिससे नियमों का पालन किया जा सके। नंबर प्लेट रिकॉग्निशन और वेट इन मशीन जैसे उपकरणों का उपयोग निगरानी हेतु किया जायेगा।

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook  - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube     -  https://bit.ly/TruckYT

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक