मुुंबई में इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज करना हुआ अब सस्ता

News Date 17 Dec 2021

मुुंबई में इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज करना हुआ अब सस्ता

रात 10 से सुबह 6 बजे तक 4.50 रुपये प्रति यूनिट 

देशभर में इस समय इलेक्ट्रिक वाहनों के संचालन को बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि प्रदूषण पर जल्द से जल्द नियंत्रण पाया जा सके। महानगरों में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए सरकारें कई तरह के कदम उठा रही हैं। बता दें कि हाल ही मुंबई में महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीव्यूशन कंपनी लि. (एमएसईडीसीएल) ने इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने की कीमत में एक रुपये प्रति यूनिट की दर से कमी कर दी है। पहले यहां देर रात ईवी चार्जिंग की रेट 5.50 रुपये प्रति यूनिट थी। इसे घटा कर अब 4.50 रुपये प्रति यूनिट कर दिया गया है। बता दें कि मुंबई में महाराष्ट सरकार ने ईवी चार्जिंग की दर 5.50 रुपये प्रति यूनिट कर रखी थी जो बिजली के लिए आवासीय दरों से कम है, अब इसे और घटा दिया गया है। इससे इलेक्ट्रिक वाहन मालिकों को राहत मिलेगी। आइए, जानते हैं मुंबई में ईवी बैटरी चार्जिंग की दरों में की गई कमी की घोषणा के पीछे क्या मुख्य उद्देश्य है? 

मुुंबई में 18 नये ईवी चार्जिंग स्टेशन बनाने का काम शुरू 

बता दें कि महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीव्यूशन कंपनी लि. की ओर से जहां एक ओर इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्जिंग की रेट रुपये प्रति यूनिट कम कर दी है वहीं दूसरी ओर मुंबईवासियों को कंपनी 18 नए ईवी चार्जिंग स्टेशनों की सौगात देने जा रही है। एमएसईडीएल ने जनता के लिए मुंबई महानगर क्षेत्र में 18 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने का निर्णय लिया है। इनमें से 4 स्टेशन ग्रेटर मुंबई में, छह ठाणे में, 4 नवी मुंबइ्र में और 4 पनवेल में स्थापित किए जा रहे हैं। बता दें कि इनमें से 7 चार्जिंग स्टेशन तो लगभग तैयार भी हो चुके हैं। वहीं पावर यूटिलिटी फर्म ने 2 वर्ष में महाराष्ट्र के अनेक जिलों  में करीब 500 चार्जिंग स्टेशन खोलने की प्लानिंग की है। 

ऐसे मिलेगा ईवी चार्जिंग की रेट में छूट का लाभ 

मुंबई में इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्जिंग की रेट में एमएसईडीसीएल की ओर से 1 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से छूट करने का ऐलान किया है लेकिन यह लाभ उन उपभोक्ताओं को ही मिल पाएगा जो गैर पीक टाइम में चार्जिंग करेंगे। कंपनी के अधिकारी का कहना है कि जो उपभोक्ता रात्रि 10 से सुबह 6 बजे के बीच इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज करेंगे उनको ही यह छूट प्रदान की जाएगी। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने पहले जो 5.50 रुपये प्रति यूनिट की दर रख रखी थी वह बिजली के लिए आवासीय दरों से कम है। 

एमएसईडीसीएल देगी चार्जिंग स्टेशनों को बढ़ावा 

बता दें कि एमएसईडीसीएल की ओर से पिछले दिनों मुंबई में चाजिंग प्वाइंटस के लिए सर्वेक्षण करवाया गया था। इसमें पाया गया कि लोग हाउसिंग सोसायटियों और शॉपिंग काम्प्लैक्स में ई वी चार्जिंग स्टेशन खोलने में रुचि दिखा रहे हैं। इसे ध्यान में रखते हुए जल्द ही इन स्थानों पर चार्जिंग प्वाइंटस खोले जाएंगे।  महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लि. महाराष्ट्र में 2.6 करोड़ उपभोक्ताओं को बिजली की आपूर्ति करती है। 

हाइवे पर भी चार्जिंग स्टेशनों की योजना 

महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिीस्टिी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लि. ने राज्य भर के राजमार्गों पर ई-चार्जिंग स्टेशनों की योजना बनाई है। कंपनी  के अधिकारियों का कहना है कि हाइवे के चार्जिंग स्टेशन एमएसईडीसीएल के सब स्टेशनों के नजदीक बनाए जाएंगे। इन स्टेशनों पर किसी वाहन को चार्ज करने में 45 मिनट से 1 घंटा तक लग सकता है। यहां बता दें कि कंपनी ने ऊर्जा दक्षता ब्यूरो के साथ मिल कर नवी मुंबई में बाइक, तिपहिया वाहन, कार और बसों सहित अन्य इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए रोड शो का भी आयोजन किया गया था। वहीं टाटा पावर ने मुंंबई में मॉल और सरकारी भवनों सहित करीब 100 स्थानों पर ईवी चार्जिंग प्वाइंट स्थापित करने के लिए पेट्रोल पंपों के साथ एक करार किया है। उधर बेस्ट ने चार डिपो में चार्जिंग स्टेशन भी स्थापित किए गए हैं। मुंबई के 23 डिपो और 10 बस स्टेशनों पर जनता के लिए ई- वाहनों के चार्जिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। 

सम्पत्ति कर में दी जाएगी रियायत 

यहां बता दें कि मुंबई में प्रदूषण कम करने और ईवी को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं। इनमें कोल्हापुर के नागरिकों को ईवी नीति से लाभाविंत करने के तहत सम्पत्ति कर में रियायत प्रदान करने का निर्णय लिया गया है। 

चार्जिंग की स्पीड और नियम अलग-अलग 

बता दें कि थ्री व्हीलर, ऑटो,या अन्य कोई  यात्री अथवा  माल ढोने वाला  कोई वाहन या जो इलेक्ट्रिक सेगमेंट में आता हो उनको  कम लागत में चार्ज करना वर्तमान में एक समस्या  है।  लेकिन अब कई निजी कंपनियों की ओर से ई वाहनों को चार्ज करने की खासी अच्छी सुविधाएं प्रदान की जा रही है। वहीं इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्ज का शुल्क भी राज्यों में अलग-अलग है। बात करें जियो की तो कहा जा रहा है कि भारत का सबसे सस्ता प्लान इस कंपनी की ओर से पेश किया जा रहा है। वाहनों के चार्जिंग के लिए धीमा और तेज तर्रार चार्जर होते हैं। राज्यों में भी बिजली की दरों के अनुसार चार्जिंग का अलग-अलग खर्च होता है। उदाहरण के लिए यदि मुंबई में अपनी इलेक्ट्रिक कार क को चार्ज करते हैं तो फुल चार्ज करने में 20-30 यूनिट बिजली खर्च हो सकती है। उधर दिल्ली सरकार की ओर से वाहनों की चार्जिंग इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 4.5 रुपये प्रति यूनिट और हाईटेंशन इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 5 रुपये प्रति यूनिट की दर निर्धारित है। 

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें। 

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक