कोरोना में ऑक्सीजन की कमी : मारुति सुजुकी अब करेगी ऑक्सीजन का उत्पादन

कोरोना में ऑक्सीजन की कमी  : मारुति सुजुकी अब करेगी ऑक्सीजन का उत्पादन

मेडिकल ऑक्सीजन : कोरोना संक्रमण के खिलाफ जंग में मारुति सुजुकी 9 दिन बंद रखेगी अपने सभी प्लांट

देश में कोरोना की दूसरी लहर के कारण भयावह हालात बने हुए हैं। पिछले कुछ दिनों से प्रतिदिन तीन लाख से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज आ रहे हैं और मृतकों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। मरीजों की संख्या एकदम बढऩे अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी होने लगी है। देश में मेडिकल ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने अपने सभी प्लांटों में ऑक्सीजन का उत्पादन शुरू करने का निर्णय लिया है।

मारुति सुजुकी इंडिया के संबंध में मीडिया में प्रकाशित समाचारों के अनुसार मारुति सुजुकी अपने सभी प्लांट्स 1 से 9 मई तक बंद रखेगी। मारुति सुजुकी गुरुग्राम के दोनों प्लांट बंद रखेगी, वहीं सुजुकी गुजरात स्थित प्लांट को बंद रखेगी। मारुति सुजुकी इस दौरान मेडिकल जरुरत के लिए ऑक्सीजन उपलब्ध कराएगी। वहीं कंपनी ने अपना वार्षिक मेंटेनेंस को जून से खिसकाकर अब मई में कर दिया है।

 

ऑक्सीजन की कमी  पर मारुति सुजुकी ने कहा-लोगों की जान बचाना सबसे पहली प्राथमिकता

कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के कारण देश के कई इलाकों में खासकर दिल्ली, एनसीआर, गुरुग्राम में ऑक्सीजन की कमी है। ऐसे में कंपनी ने मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन करने का निर्णय लिया है। मारुति आमतौर पर जून में वार्षिक प्लांट मेंटेनेंस के लिए बंद रखती है लेकिन वर्तमान स्थिति को देखते हुए इसे मई में कर दिया गया है। मारुति सुजुकी इंडिया ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि हम लोगों की जान बचाने के लिए सरकार का साथ देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं। मारुति सुजुकी ने कहा कि उत्पादन प्रोसेस के तहत मारुति सुजुकी अपने फैक्ट्री में थोड़ी मात्रा में ऑक्सीजन का उपयोग करती है और अधिक मात्रा में ऑक्सीजन का उपयोग उपकरण के उत्पादन के लिए किया जाता है। ऐसे समय जितनी भी उपलब्ध ऑक्सीजन है उसका उपयोग जान बचाने के लिए किया जाएगा। आपको बता दें कि कई वाहन कंपनियां अपने प्लांट बंद करने का निर्णय ले चुकी है। हाल ही में एमजी मोटर, सुजुकी मोटरसाइकिल, हीरो मोटोकॉर्प ने प्लांट बंद करने का निर्णय लिया है और कई कंपनियां ऑक्सीजन बनाने में मदद कर रही है।


हुंडई भी लगाएगा ऑक्सीजन प्लांट

देश में ऑक्सीजन की कमी के बीच हुइर्ड ने भी घोषणा की है कि यह अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने में मदद करेगा। दक्षिण कोरिया के प्रमुख वाहन निर्माता ने घोषणा की है कि वह अपने हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन के माध्यम से 20 करोड़ के कोविड-19 राहत पैकेज के साथ मदद करेगा। इस राशि का उपयोग महाराष्ट्र, दिल्ली, हरियाणा, तेलंगाना और तमिलनाडु जैसे कुछ सबसे प्रभावित राज्यों में चिकित्सा ढांचे में सुधार के लिए किया जाएगा। कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के कारण भारत में कोविड रोगियों की बढ़ती संख्या के कारण चिकित्सा सुविधाओं में तेजी से ऑक्सीजन की कमी हुई है। इस बीच कई औद्योगिक क्षेत्र जो अपने संचालन के लिए ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं, उन्हें चिकित्सा क्षेत्रों में जीवन रक्षक गैस को डाइवर्ट करते के लिए निर्देशित किया गया है।

 

लिक्विड ऑक्सीजन के इस्तेमाल पर सरकार ने लगाई रोक 

जीवन रक्षक गैस की भारी कमी के मद्देनजर, भारत सरकार ने औद्योगिक उद्देश्यों के लिए लिक्विड ऑक्सीजन के उपयोग पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह स्पष्ट कर दिया है कि किसी भी उद्योग को लिक्विड ऑक्सीजन के उपयोग के संबंध में किसी भी अपवाद की अनुमति नहीं है। सरकार ने केवल चिकित्सा उद्देश्यों के लिए लिक्विड ऑक्सीजन का उपयोग करने का फैसला किया है, जिसमें मौजूदा स्टॉक भी शामिल है।

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक