महिंद्रा इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स की 50,000 यूनिटस बेची

News Date 30 Jun 2022

महिंद्रा इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स की 50,000 यूनिटस बेची

महिंद्रा इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स की लॉचिंग के 4 साल के भीतर जोरदार बिक्री

भारत में इलेक्ट्रिक सेगमेंट की ओर लोगों का तेजी से रुख हो रहा है। इससे देश की प्रमुख ईवी निर्माता कंपनियों की बिक्री में भी उछाल बना हुआ है। इलेक्ट्रिक वाहनों में भी सबसे ज्यादा तिपहिया वाहनों की मांग अधिक बनी हुई है। यहां महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी फर्म की बात की जाए तो इसने महज चार साल में 50,000 इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर बेचे हैं। यह सूचना कंपनी ने ऑटो सेक्टर के मीडिया रिपोर्ट्स में दी है। इस कंपनी को पहले आरईसीसी रेवा इलेक्ट्रिक कार कंपनी के रूप में जाना जाता था। यह 1994 में संयुक्त राज्य अमेरिका की एक फर्म के साथ एक संयुक्त उद्गम के रूप में की थी। इसके बाद 26 मई 2010 को भारत के सबसे बड़े एसयूवी एवं ट्रैक्टर निर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा आरईसीसी में  55.2 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी। इससे इसका नाम महिंद्रा रेवा इलेक्ट्रिक व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड कर दिया लेकिन वर्ष 2016 में इसका नाम महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड कर दिया गया। आइए, ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में आपको बताते हैं कैसे महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने चार साल के अंदर इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स की 50,000 इकाइयों की सेल की?

ई- मोबिलिटी में मील का पत्थर

महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने 4 साल में ई- थ्री व्हीलर्स की जो रिकार्ड सेल की है वह कंपनी की ओर से मील का पत्थर बताई गई है। इस संबंध में महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी के सीईओ सुमन मिश्रा ने अपने ट्वीटर हैंडल पर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा है कि अब तक 50,000 इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स की बिक्री के लिए हमारे अग्रणी ग्राहकों को एक विशाल धन्यवाद। महिंद्रा इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स अपने मजबूत और हल्के शरीर के लिए जाने जाते हैं। इसमें 130 किलोमीटर की अच्छी रेंज और एक बैटरी जो 5 साल तक चल सकती है।

मोबिलिटी सेगमेंट में एक क्रांति लाने की जिद

यहां बता दें कि इलेक्ट्रिक वाहनों के परिचलन में महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी एक क्रांति लाने की जिद किए हुए है। इस संबंध में महिंद्रा इलेक्ट्रिक के एमडी और सीईओ महेश बाबू ने विश्व ईवी दिवस से पहले लिखा कि भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से शहरी होती जा रही है। विश्व बैंक के अनुसार 2050 तक 400 मिलियन से अधिक भारतीय शहरी क्षेत्रों में स्थानांतरित हो जाएंगे। वास्तव में 2030 तक भारत में 7 मिलियन से अधिक की आबादी वाले 7 मेगा शहर होंगे। पिछले पांच वर्षों में देश में साझा गतिशीलता भी तेजी से बढ़ी है। इस सकारात्मक हरित वातावरण का फायदा उठाते हुए महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने महिंद्रा ट्रेओ के साथ भारत का पहला इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर प्लेटफार्म डिजायन करके भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी का बीड़ा उठाया।ट्रेओ छोटी दूरी के  आवागमन के लिए उपयुक्त है।

ईको सिस्टम को सपोर्ट्स 

बता दें कि देश में महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ऑटोमोबाइल क्षेत्र में पहली कंपनी है वहीं ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में कमी के लिए विज्ञान आधारित लक्ष्य से अनुमोदन प्राप्त करने वाली दूसरी कंपनी है। यह कंपनी केवल ईवी निर्माता ही नहीं बल्कि एक संपूर्ण ईवी प्रोद्योगिकी समाधान प्रदाता है। इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स और छोटी कारों के लिए MESMA 48 V प्लेटफॉर्म के साथ-साथ स्वदेशी रूप से निर्मित एमईएसएमए 350 वी पावरट्रेन, जो कोरिया और यूरोप में वैश्विक एसयूवी को विद्युतीकृत करने के लिए तैयार है। ईवी स्पेस में इसकी विशेषज्ञता का प्रमाण है। यहां बता दें कि कनेक्टेड मोबिलिटी के लिए महिंद्रा इलेक्ट्रिक का आगामी जेनरेशन मोबिलिटी प्लेटफॉर्म पूरे ईवी इकोसिस्टम को सपोर्ट करता है और फ्लीट ऑपरेशंस को उनकी ईवी राइड्स की अधिक कुशलता से योजना बनाने में मदद करता है। यह व्यक्तियों को अपनी कारों के मापदंडों की दूर से निगरानी करने में मदद करता है।

स्थायी गतिशीलता का क्षेत्र बनाने का संकल्प

इलेेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री जिस तीव्र गति से बढ़ रही है उसे देखते हुए महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने स्थायी गतिशीलता क्षेत्र बनाने का संकल्प लिया है। वर्तमान में भारत इलेक्ट्रिक तिपहिया वाहनों की बिक्री में विश्व में सबसे अग्रणी है। उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दशक में ईवीएस और अधिक लोकप्रिय होते दिखेंगे ऐसी संभावना है। इससे ओईएम और पर्यावरण दोनो को लाभ पहुंचेगा। महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी का मानना है कि भविष्य में ईवीएस स्वच्छ गतिशीलता समाधान प्रदान करके गतिशीलता की बढ़ती मांग को पूरा करेंगे और भारतीय शहरों को कार्बन मुक्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook  - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube     -  https://bit.ly/TruckYT

टाटा एस गोल्ड सीएनजी

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक