भारत पेट्रोलियम अक्टूबर तक स्थापित करेगी 1 हजार EV चार्जिंग स्टेशन

News Date 14 Jan 2022

भारत पेट्रोलियम अक्टूबर तक स्थापित करेगी 1 हजार EV चार्जिंग स्टेशन

पांच चरणों में होगा काम पूरा, जानें, क्या है बीपीसीएल कंपनी की स्कीम 

देश में तेजी से बढ़ रही इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग को बरकरार रखने के लिए भारत सरकार के स्वामित्व वाली तेल और गैस निगम कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग सुविधा उपलब्ध कराने के लिए बड़ी योजना लेकर आई है। बता दें कि बीपीसीएल इस साल अक्टूबर माह तक 1,000 और पांच साल में 7000 से अधिक ईवी चार्जिंग स्टेशन खोलेगी। आइए,जानते हैं भारत पेट्रोलियम की क्या है यह योजना और इस पर कुल  कितना बजट खर्च होगा? 

व्यावसायिक अवसरों में होगी वृद्धि 

Bharat Petroleum Corporation Limited  की ओर से देश के विभिन्न हिस्सों में अगले पांच सालों में करीब 7,000 ईवी स्टेशन स्थापित करने की महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन से हजारों लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। इससे व्यावसायिक अवसरों में वृद्धि होगी। यही नहीं ईवी स्टेशनों के विस्तार के कारण ऑटो ईंधन के विस्थापन के जोखिम के खिलाफ बचाव करेगा। इससे पहले भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड के चेयरमैन अरुणकुमार सिंह ने ऐसा कहा। उनका यह भी कहना था कि कंपनी पेट्रोल,डीजल, फ्लैक्सी ईंधन, ईवी चार्जिंग सुविधा, सीएनजी और अंतत: हाइड्रोजन जैसे कई ईंधन विकल्प प्रदान करके करीब 7,000 पारंपरिक आउटलेट्स को एनर्जी स्टेशनों में परिवर्तित करने पर काम कर रही है। 

भारत पेट्रोलियम के देशभर में 19 हजार से अधिक आउटलेट्स 

यहां बता दें कि भारत पेट्रोलियम के देश भर में 19 हजार से अधिक आउटलेट्स हैं। वहीं अगले कुछ वर्षों में कंपनी का लक्ष्य बढ़ते हुए ईवी उद्योग को समर्थन के लिए देश के अनेक शहरों में 7,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन शुरू करने का है। इन सभी स्टेशनों को एनर्जी स्टेशन के रूप में जाना जाएगा। ईवी स्टेशनों की यह सुविधा बढऩे से निश्चित तौर पर इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल में भी तेजी से वृद्धि होगी।

ईवी स्टेशनों के निर्माण पर खर्च होंगे 5,000 करोड़ रुपये 

भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड कंपनी की ओर से आगामी पांच सालों में देश में कुल 7000 ईवी स्टेशन स्थापित करने में लगभग 5,000 रुपये की बजट राशि खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। भारत पेट्रोलियम मौजूदा समय में 45 मेगावाट अक्षय ऊर्जा क्षमता का संचालन कर रही है। वहीं दूसरी ओर कंपनी जैव ईंधन में 7,000 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना बना रही है। इससे आगे आने वाले समय में वैकल्पिक ईंधन पर निर्भरता बढ़ाई जा सके। 

स्वच्छ ऊर्जा का होगा केंद्रीकरण 

बता दें कि इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग सुविधाओं का विस्तार होने से स्वच्छ ऊर्जा के एकीकृत होने में मदद मिलेगी। भारत अपनी ऊर्जा मांगों को पूरा करने के लिए ईवी के इस्तेमाल पर जोर देने के साथ ही अन्य विकल्पों पर काम कर रहा है। वैसे दुनिया में कार्बन डाइऑक्साइड का तीसरा सबसे बड़ा उत्सर्जक भारत है। इससे पहले चीन और अमेरिका का नंबर आता है। बता दें कि सरकार अक्षय ऊर्जा पर केंद्रीकरण के साथ भारत पेट्रोलियम ईवी चार्जिंग नेटवर्क को तैयार करने की योजना पर काम कर रही है। 

एनर्जी स्टेशनों में कैसे चार्जर होंगे? 

भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड की ओर से स्थापित किए जाने वाले ईवी चार्जिंग स्टेशनों में ईवी चार्जर किस श्रेणी के होंगे यह अभी तय नहीं है। वैसे संभावना है कि कंपनी अपने एनर्जी स्टेशनों पर एसी और डीसी दोनो फास्ट चार्जिंग सक्षम चार्जर पेश करेगी। 

जानें, भारत पेट्रोलियम लिमिटेड कंपनी के बारे में 

भारत पेट्रोलियम कारर्पोशन लिमिटेड भारत की तीसरी सबसे बड़ी एकीकृत तेलशोधन और विपणन करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है। इस कंपनी को सरकार द्वारा नवरत्न का दर्जा मिला हुआ है।  इस कंपनी की स्थापना 1952 में मुंबई में की गई थी। इसकी सहयोगी कंपनियों में भारत ओमान रिफाइनरी लिमिटेड आदि हैं। यह पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अधीन आती है। 

सरकारी पेट्रोल कंपनियों पर ईवी चार्जिंग की मिलेंगी सुविधाएं 

बता दें कि आने वाले दिनों में देश के लगभग सभी सरकारी पेट्रोलियम कंपनियों पर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को चार्जिंग करने की सुविधा मिलेगी। भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड के अलावा इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन और पब्लिक सेक्टर की दो अन्य पेट्रोलियम कंपनियां अगले तीन से लेकर पांच साल के भीतर देश भर में करीब 22,000 इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे। 

तीन साल में 10,000 पेट्रोल पंपों पर होगी चार्जिंग सुविधा 

बता दें कि देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल के चेयरमैन श्रीकांत वैद्य ने कहा कि हम अगले तीन साल में 10,000 पेट्रोल पंपों पर ईवी चार्जिंग सुविधा स्थापित करेंगे।  वहीं भारत पेट्रोलियम पांच सालों में 7,000 एवं हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड ने 5,000 चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की योजना बनाई है। 

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें। 

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक