मई 2022 में टाटा, महिंद्रा, अशोक लेलैंड ने बेचे सबसे ज्यादा कमर्शियल व्हीकल

News Date 09 Jun 2022

मई 2022 में टाटा, महिंद्रा, अशोक लेलैंड ने बेचे सबसे ज्यादा कमर्शियल व्हीकल

टाटा मोटर्स ने कमर्शियल वाहनों की बिक्री में पहला स्थान बनाया

पिछले दिनों से केंद्र और राज्य सरकारों की आर्थिक नीतियों में हुए सुधार और ऑटोमोबाइल उद्योग को बढ़ावा दिए जाने से वाणिज्यिक वाहनों की सेल बढ़ी है। फैडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन की ओर से घोषित सेल्स रिपोर्ट के तहत मई 2022 में भारत में कमर्शियल वाहनों की बिक्री 66,632 इकाइयों तक पहुंच गई जो कि गत वर्ष की इसी समान अवधि मे दौरान 17,607 इकाई थी। वहीं बता दें कि एक बार फिर टाटा मोटर्स ने कमर्शियल वाहनों की बिक्री में पहला स्थान बनाया है।

टाटा मोटर्स के अलावा महिंद्रा और अशोक लेलैंड क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे हैं। इसके अलावा, मारुति, वीई कमर्शियल, डेमलर इंडिया, ईसुजू, फोर्स मोटर्स लिमिटेड आदि अन्य कंपनियों के वाणिज्यिक वाहनों की भी बिक्री में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है। यहां ट्रक जंक्शन की इस पोस्ट में आपको भारत की सभी मुख्य कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनियों की सेल्स रिपोर्ट के आधार पर यह खबर प्रस्तुत की जा रही है।

मई 2022 में टाटा मोटर्स की खुदरा बिक्री 27,553 इकाई

यहां बता दें कि पिछले महीने मई 2022 की फैडा द्वारा जारी सेल्स रिपोर्ट में टाटा मोटर्स की खुदरा बिक्री बढ़ कर 27,553 इकाई हो गई जबकि मई 2022 में यह बिक्री 7373 इकाई थी। इस तरह से इस कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 41.88 प्रतिशत बढ़ गई। टाटा मोटर्स के वाणिज्यिक वाहन सेगमेंट में एलसीवी, एमसीवी और एचसीवी सहित कंस्ट्रक्शन इक्विमेंट व्हीकल आदि शामिल हैं। मई 2022 में टाटा मोटर्स द्वारा बेची गई 27,553 यूनिट्स के साथ टाटा मोटर्स सबसे आगे थी। इससे मई 2021 में 7,373 इकाइयां बेची थीं।

बता दें कि टाटा के वाणिज्यिक वाहनों की रेंज में मीडियम और हैवी ड्यूटी वाले कमर्शियल वाहनों की खुदरा बिक्री में इजाफा हुआ है। इन वाहनों में इंटरसिटी कोच, टरमैक कोच, वेंचर, ऐस, स्कूल बसें आदि शामिल हैं। कंपनी ने ऐस इलेक्ट्रिक लांच किया है जो उनका पहला पूरी तरह से इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन है। इसकी 154 किमी की रेंज है।

महिंद्रा ने बिक्री वृद्धि के साथ बाजार हिस्सेदारी भी बढ़ाई

वाणिज्यिक वाहनों की खुदरा बिक्री के आंकड़ो पर गौर करें और फैडा की सेल्स रिपोर्ट को आधार माना जाए तो टाटा मोटर्स के बाद भारत की प्रमुख कमर्शियल वाहन निर्माता महिंद्रा ने मई 2022 में 14,739 इकाइयां बेचीं जबकि मई 2021 में 3,352 इकाइयों का बेचान हो पाया था। एक साल के अंदर चार गुना से अधिक वाहनों की बिक्री होना इस कंपनी के लिए खासी उपलब्धि मानी जाएगी। यही नहीं महिंद्रा के कमर्शियल वाहनों की  बिक्री बढऩे के साथ इसकी बाजार हिस्सेदारी में भी वृद्धि देखी गई है। यह मई 2021 में 19.15 प्रतिशत  थी जो मई 2022 में बढ़ कर 22.12 प्रतिशत हो गई। गौरतलब है कि मई 2021 में कोरोना महामारी के चलते कड़ी पाबंदियोंं ने वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री को बुरी तरह से प्रभावित कर दिया था।

अशोक लेलैंड की खुदरा बिक्री में हुई करीब 5 गुना वृद्धि

फैडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशंस की ओर से जारी सेल्स रिपोर्ट के अनुसार मई 2022 में वाणिज्यिक वाहनों की कुल खुदरा बिक्री में भारी वृद्धि देखी गई है। इसके अनुसार ही भारत की प्रमुख सीवी निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री में तीसरे स्थान पर रही है। बता दें कि अशोक लेलैंड की खुदरा बिक्री मई 2022 में 10,391 इकाइयों तक पहुंच गई जो कि मई 2021 में 2,792 इकाइयों तक सीमित थी। वहीं इसकी बाजार हिस्सेदार 2021 के मुकाबले 2022 में 15.88 से घटकर 15.59 रह गई।

मारुति सुजुकी, वीई कमर्शियल और डेमलर की बिक्री में वृद्धि

यहां आपको बता दें कि वर्ष 2022 के मई माह के दौरान टाटा मोटर्स, महिंद्रा, अशोक लेलैंड सहित भारत की अधिकांश सीवी कंपनियों की सेल में वृद्धि हुई। इनमें मारुति सुजुकी, वीईसीवी और डेमलर इंडिया की खुदरा बिक्री के बारे में यहां आपको जानकारी दी जा रही है। वीई कमर्शियल की खुदरा बिक्री में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई। साल दर साल के हिसाब से तुलना की जाए तो मई 2021 में वीई कमर्शियल व्हीकल्स लि. कंपनी की बिक्री मात्र 928 इकाइयों तक सीमित थी जो मई 2022 में बढ़ कर करीब पांच गुना, 4528 इकाइयां हो गईं। इसकी बाजार हिस्सेदारी में भी इजाफा हुआ जो एक साल में 5.27 से बढ़ कर 6.80 हो गया। वहीं मारुति सुजुकी ने मई 2022 में 3027 इकाइयों का बेचान किया और इससे एक साल पहले इसी महीने 887 इकाइयां बेची थीं। इसके बावजूद इसकी बाजार हिस्सेदारी घट गई। वहीं डेमलर कंपनी ने कमर्शियल वाहनों की बिक्री में छठा स्थान हासिल किया है। इसकी बिक्री मई 2021 में जहां 446 इकाइयां थी वह मई 2022 में 1,161 इकाइयों तक पहुंच गई।

फोर्स मोटर्स, एसएमएल ईसुजू एवं अन्य कंपनियों की सेल

बता दें कि मई 2022 में फोर्स मोटर्स ने 1,141 इकाइयों की सेल की जबकि मई 2021 में इसने 639 इकाइयों का बेचान किया। इसकी बाजार हिस्सेदारी 3.63 प्रतिशत से घट कर 1.71 प्रतिशत रह गई। इसी तरह एसएमएल ईसुजू की बिक्री मई 2022 में 860 इकाई रही जबकि मई 2021 में 123 इकाई ही थी। इसके अलावा अन्य कंपनियों की कमर्शियल व्हीकल्स की सेल मई 2022 में 3232 इकाई रही जबकि एक साल पहले 1047 इकाइयां थी।

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   - https://bit.ly/TruckYT

टाटा योद्धा पिकअप

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक