ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया अब ऑनलाइन, नहीं जाना होगा आरटीओ आफिस

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया अब ऑनलाइन, नहीं जाना होगा आरटीओ आफिस

जानें, सरकार ने कौनसी 18 सेवाओं को किया ऑनलाइन, देखें सरकार का नोटिफिकेशन्स

सरकार ने देश के ऑटो सेक्टर के करोड़ों वाहन चालकों व मालिकों को राहत प्रदान की है। अब कई कार्यों के लिए आरटीओ आफिस का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। सरकार ने 18 सेवाओं को ऑनलाइन कर दिया है। केंद्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की पूरी प्रक्रिया सहित 18 सेवाओं को ऑनलाइन करने का नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है। आपको बता दें कि देश में ट्रक, बस सहित करोड़ों की संख्या में चौपहिया व दुपहिया वाहन सडक़ों पर दौड़ते हैं। वाहन चालकों व मालिकों को आरटीओ आफिस में कुछ न कुछ काम पड़ता रहा है। इन कामों को कराने के लिए अगर वे ऑफिस आते हैं तो उनका समय बहुत बर्बाद होता है। अब 18 सेवाओं के ऑनलाइन होने से उनका समय बचेगा। सडक़ और परिवहन मंत्रालय ने 4 मार्च से आधार-प्रमाणीकरण आधारित संपर्क रहित सर्विस की शुरुआत कर दी है। जिसके तहत आप घर बैठे ऑनलाइन ही आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से इन सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। 


इन 18 सेवाओं के संबंध में सरकार का नोटिफिकेशन्स जारी

सरकार ने नोटिफिकेशन्स जारी कर 18 सेवाओं को घर बैठे ऑनलाइन करने की सुविधा प्रदान की है। आप आधार-प्रमाणीकरण के आधार पर वाहन रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस सहित 18 तरह की सर्विस का फायदा उठा सकते हैं। इनमें लर्निंग लाइसेंस बनवाना, ड्राइविंग लाइसेंस का रिन्यूअल, ड्राइविंग लाइसेंस में पता बदलना, व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, व्हीकल के मालिकाना हक में बदलाव, इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस और ट्रांसफर नोटिस जैसी सुविधाएं शामिल हैं। 

 


जानें, ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से करें लिंक कराने की प्रक्रिया

इन 18 सर्विस का फायदा उठाने के लिए वाहन चालक व मालिक को ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की अधिकृत वेबसाइट पर अपना आधार नंबर लिंक करना होगा। यहां यह ध्यान रखना होगा कि आपका आधार नंबर आपके मोबाइल फोन से लिंक होना चाहिए।
सबसे पहले ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर जाकर अपने राज्य का चयन करना होगा। अब लिंक आधार बटन पर क्लिक करने के बाद ड्रॉप-डाउन मैन्यू से ड्राइविंग लाइसेंस चुनें। बॉक्स में ड्राइविंग लाइसेंस नंबर दर्ज करें। अब 'गेट डिटेल' पर क्लिक करें।
अब दिए गए बॉक्स में अपना 12 अंकों का आधार नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। इसके बाद आपके मोबाइल नंबर एक वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आएगा। इस ओटीपी को दिए गए बॉक्स में एंटर करने के बाद आपकी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और आधार कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक हो जाएगा।


ड्राइविंग लाइसेंस की पुरानी प्रक्रिया से छुटकारा, अब ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

अब तक लर्निंग लाइसेंस के लिए आरटीओ ऑफिस जाकर अप्लाई करना होता है। आवेदन के समय घर का पता, आयु प्रमाण पत्र जैसे कई दस्तावेज प्रस्तुत करने होते हैं। यहां आपको एक टेस्ट प्रक्रिया से गुजरना होता है। हालांकि, अब यह टेस्ट कंप्यूटर पर होता है, जिसका रिजल्ट आपको तुरंत मिल जाता है। टेस्ट में पास होने पर आपको लर्निंग लाइसेंस जारी कर दिया जाता है जो छह माह तक मान्य होता है। छह महीने के अंदर आपको पक्के लाइसेंस के लिए अप्लाई करना होता है। पक्का लाइसेंस लेने के लिए आपका ड्राइविंग टेस्ट लिया जाता है। अब यह सारी प्रक्रिया ऑनलाइन होने जा रही है। परिवहन मंत्रालय ने देश के कई राज्यों जैसे दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड, और हरियाणा में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू कर दी है। बाकी बचे राज्यों में भी यह सुविधा जल्द ही शुरू होगी। 

  • सबसे पहले परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की Parivahan.Gov.In वेबसाइट पर विजिट करें।
  • यहां आपको अपने शहर व राज्य का चयन करना होगा।
  • आपको लर्निंग लाइसेंस के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। 
  • इसके बाद आपको एप्लीकेशन फॉर्म में अपनी जानकारी भरनी होगी।
  • पहचान पत्र, जन्म प्रमाण-पत्र, पते का प्रमाण-पत्र, अपनी फोटो और हस्ताक्षर अपलोड करने होंगे।
  • इसके बाद आपको टेस्ट ड्राइव की तारीख का चुनाव करना होगा। 
  • टेस्ट ड्राइव के लिए अपने साथ आईडी प्रूफ जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड आदि लेकर जाना होगा।

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक