Detect your location
Select Your location
Clear
  • Pune
  • Bangalore
  • Mumbai
  • Hyderabad
  • Chennai
Popular Cities
Pune
Bangalore
Mumbai
Hyderabad
Chennai
jaipur
Montra
By Saurjesh Kumar
04 Mar 2024
Automobile

2024 में ये टॉप एक्सप्रेसवे बढ़ाएंगे भारत की शान, बढ़ेगा रोड नेटवर्क

By Saurjesh Kumar News Date 04 Mar 2024

2024 में ये टॉप एक्सप्रेसवे बढ़ाएंगे भारत की शान, बढ़ेगा रोड नेटवर्क

जानें भारत के टॉप आगामी एक्सप्रेसवे, जो बदलेंगे भारत की तस्वीर

एक्सप्रेसवे का महत्व लगातार बढ़ रहा है। एक्सप्रेसवे के जरिए भारत में बिजनेस को काफी ज्यादा सपोर्ट मिल रहा है। इससे भारत में यातायात सरल हो रहा है और सड़क का नेटवर्क भी लगातार बढ़ रहा है। मौजूदा वक्त में सड़क कनेक्टिविटी की बात की जाए तो भारत का सड़क अमेरिका और चीन के बाद तीसरे स्थान पर है। हालांकि भारत में एक्सप्रेसवे की संख्या कम है, वहीं चीन और अमेरिका में बड़ी संख्या में एक्सप्रेसवे देखने को मिल जाते हैं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दावा किया है कि वह अमेरिका से भी बड़ा रोड इंफ्रास्ट्रक्चर भारत में स्थापित करेंगे। लगातार नए एक्सप्रेसवे का निर्माण जारी है। 

ट्रक जंक्शन के इस पोस्ट में हम भारत के टॉप एक्सप्रेसवे की जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे 

भारत माला परियोजना के तहत भारत में सभी एक्सप्रेसवे का निर्माण किया जा रहा है ताकि भारत की सड़क अवसंरचना को सुधारा जाए। यह परियोजना 1350 किलोमीटर एक्सप्रेसवे का निर्माण करेगी। इसमें 8 लेन दिए गए हैं, जो 12 तक बढ़ाया जा सकता है। इसका निर्माण 1 लाख करोड़ रुपए की लागत से किया जाएगा।

द्वारका एक्सप्रेसवे 

द्वारका एक्सप्रेसवे को 8 लेन शहरी एक्सप्रेसवे को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 8662 करोड़ रुपए है। वहीं इसकी लंबाई 29.10 किलोमीटर है।

मुंबई नागपुर एक्सप्रेसवे 

मुंबई नागपुर एक्सप्रेसवे की लंबाई 701 किलोमीटर है और यह एक्सप्रेसवे भारत के करीब 390 गांव और 10 जिलों को जोड़ेगा। वर्तमान में जहां नागपुर से मुंबई पहुंचने में 14 से 15 घंटे का सफर करना पड़ता है, इस एक्सप्रेसवे के निर्माण से सिर्फ 7 घंटे में नागपुर से मुंबई तक की दूरी तय की जा सकेगी। यह 6 लेन एक्सप्रेसवे है, जिसकी परियोजना लागत 55,000 करोड़ रुपए है।

गंगा एक्सप्रेसवे 

मेरठ से शुरू होने वाले और प्रयागराज में खत्म होने वाले गंगा एक्सप्रेसवे को 40 हजार करोड़ रूपये की लागत से बनाया जा रहा है। यह एक्सप्रेसवे कुल 12 जिलों को कवर करता है। इस एक्सप्रेसवे को इस तरह निर्मित किया गया है कि 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से वाहन लेकर सफर किया जा सकता है। इस एक्सप्रेस की लंबाई 594 किलोमीटर है। यह 6 लेन एक्सप्रेसवे है, इसे 8 लेन तक बढ़ाया जा सकता है।

दिल्ली अमृतसर कटरा एक्सप्रेसवे 

दिल्ली अमृतसर कटरा एक्सप्रेसवे का निर्माण 25 हजार करोड़ रुपए की लागत से किया जा रहा है। यह 650 किलोमीटर लंबा प्रोजेक्ट है, जो दिल्ली के बहादुरगढ़ से जम्मू कश्मीर के कटरा तक प्रस्तावित है। यह पंजाब के अमृतसर, नोकदार और गुरदासपुर को भी कवर करता है। यह 4 लेन एक्सप्रेसवे है जो 8 लेन तक बढ़ाया जा सकता है।

अहमदाबाद धोलेरा एक्सप्रेसवे 

अहमदाबाद धोलेरा एक्सप्रेसवे निर्माण की घोषणा 2010 में की गई है। इस परियोजना की लागत 3000 करोड़ रुपए थी। इस एक्सप्रेसवे की लंबाई 109 किलोमीटर है। यह 4 लेन एक्सप्रेसवे है।

बैंगलोर चेन्नई एक्सप्रेसवे 

यह एक्सप्रेसवे दक्षिण भारत का प्रमुख एक्सप्रेसवे है। यह चार लेन चौड़ा है और दो राज्यों की राजधानी तमिलनाडू की चेन्नई और कर्नाटक के बैंगलोर को जोड़ता है। इस परियोजना की लागत 17000 करोड़ रुपए है। इस एक्सप्रेसवे की लंबाई 260.85 किलोमीटर है। दक्षिण भारत का यह एक्सप्रेसवे ट्रांसपोर्टेशन के क्षेत्र में अपना अहम योगदान दे रहा है।

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

Facebook - https://bit.ly/TruckFB

Instagram - https://bit.ly/TruckInsta

YouTube   - https://bit.ly/TruckYT 

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Call Back Button Call Us