Detect your location
Select Your location
Clear
  • Pune
  • Bangalore
  • Mumbai
  • Hyderabad
  • Chennai
Popular Cities
Pune
Bangalore
Mumbai
Hyderabad
Chennai
jaipur
Montra
17 Feb 2022
Automobile

वाणिज्यिक वाहनों की मांग ट्रक बेड़े पर होगी निर्भर

By News Date 17 Feb 2022

वाणिज्यिक वाहनों की मांग ट्रक बेड़े पर होगी निर्भर

कमर्शियल वाहन उद्योग को व्यापार पटरी पर आने की उम्मीद 

कोविड महामारी का कठिन दौर हालांकि अब लगभग खत्म होने जा रहा है लेकिन पिछले कुछ वर्षों में इसके प्रकोप के चलते भारत का वाणिज्यिक वाहन व्यापार खासा प्रभावित हुआ है। देश की दूसरी सबसे बड़ी वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड की मानें तो भारत में ट्रकों की मांग में पिछले दो-तीन वर्षों से कमी आई है। इसकी मुख्य वजह है ट्रक बेड़े ने नये वाहनों की खरीद को स्थगित कर दिया है। अब जबकि कोविड की तीसरी लहर लगभग समापन की ओर है तो फिर से ट्रकों के विकास का चक्र घूमेगा वहीं स्कूल फिर से खुलने के कारण बसों की मांग भी बढऩे की उम्मीद है। इस तरह से कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनियों को वापस अपना बिजनेस पटरी पर आता  दिखाई दे रहा है। अशोक लेलैंड के निदेशक और मुख्य वित्तीय अधिकारी गोपाल महादेवन ने कहा है कि पिछले कुछ वर्षों से ट्रकों की मांग में जो कमी आई थी लेकिन अब सीवी उद्योग बेड़े के प्रतिस्थापन की मांग पर भरोसा कर रहा है। आइए, जानते हैं देश के वाणिज्यिक वाहन निर्माता समूहों की नई आशा को लेकर रेटिंग एजेंसी क्रिसिल की इस सप्ताह की यह शोध रिपोर्ट क्या कहती है? 

पिछले साल दिसंबर तक रही गिरावट 

बता दें कि रेटिंग एसेेंसी क्रिसिल की सीवी उद्योग को लेकर जारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल दिसंबर तक लगभग आठ तिमाहियों में वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनियों की सीवी मांग में गिरावट दर्ज की गई। यह एक प्रतिस्थापन चक्र है जो कोविड खत्म होने के बाद वापस मांगी वृद्धि में तब्दील हो जाएगा। महादेवन ने कहा कि बसों की मांग भी वापस आएगी। वर्तमान में बस की बिक्री घट कर 1,0000 से 12,000 यूनिट रह गई। यह मांग एक वर्ष में कोविड़ से पहले लगभग 40,000 यूनिट थी। 

इस वित्त वर्ष में बढ़ेगी कमर्शियल वाहनों की बिक्री 

जो बुरा वक्त था वह गुजर गया है। अब कोविड का असर खत्म होने के बाद नये वित्त वर्ष की आने वाली तिमाहियों में सीवी की बिक्री बढऩे की उम्मीद है। इस संबंध में मार्केट लीडर टाटा मोटर्स ने कहा है कि ट्रक मालिक विशेष रूप से खुदरा खरीदार, अस्थिर आर्थिक माहौल और धीरे-धीरे कोविड-19 के प्रतिबंधों के कारण पिछले दो वर्षों से अपनी खरीद को रोक रहे हैं। वहीं टाटा मोटर्स के सीवीबीयू के वाइस प्रेसिडेंट, सेल्स एंड मार्केटिंग, राजेश कौल ने कहा है कि हमारे पीछे ऑमिक्रोन लहर और बजट में घोषित पूंजीगत व्यय में बढ़ोतरी के साथ हमें उम्मीद है कि आने वाली तिमाहियों में फिर से सीवी की बिक्री शुरू होगी। 

वीईसीवी को है सीवी की मांग सुधरने की आशा 

बता दें कि वाणिज्यिक वाहन निर्माता कंपनियों की चिंता अब दूर होने लगी है। कोविड के प्रतिबंध धीरे-धीरे हट रहे हैं और अब सीवी उद्योग को बेड़े की प्रतिस्थापन मांग सहित समग्र सीवी मांग में वृद्धि की संभावना है। कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी वीईसीवी के एमडी और सीईओ विनोद अग्रवाल ने हाल ही कहा है कि वाणिज्यिक वाहन उद्योग ने तिमाही दर,तिमाही सुधार जारी रखा है। उम्मीद है कि बहुत अधिक प्रतिस्थापन मांग और बुनियादी ढांचे के निवेश में विकास होगा। इसके अलावा रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने अपनी शोध रिपोर्ट में कहा है कि वित्त वर्ष 2022 में सीवी बिक्री 18 से 23 प्रतिशत बढऩे की उम्मीद है। आर्थिक सुधार और बुनियादी ढांचे के खर्च को जारी रखने पर अगले वित्त वर्ष में दो अंकों की मात्रा में वृद्धि जारी रहेगी। 

सीवी उद्योग बिक्री वृद्धि के लिए अपना रहा सीएनजी सेगमेंट 

यहां यह बता दें कि लगभग सभी कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनियां इलेक्ट्रिक वाहनों के उत्पादन के अलावा किफायती ईंधन के दूसरे विकल्प सीएनजी के सेगमेंट की ओर अग्रसर हो रही हैं। इंटरमीडियट और हल्के वाणिज्यिक वाहन खंड डीजल की तुलना में सीएनजी की ओर बढ़ रहा है। भारत में सीवी की बिकी में मध्यवर्ती और हल्के वाहनों की हिस्सेदारी 35-40 प्रतिशत है और इसमें सीएनजी का एक तिहाई हिस्सा है। बता दें कि टाटा मोटर्स ने इस सेगमेंट में बढ़त हासिल कर ली है। वहीं आयशर मोटर्स और अशोक लेलैंड ने भी सीएनजी सेगमेंट का अनुसरण किया है। कुल मिलाकर सीवी उद्योग को आने वाले समय में वाणिज्यिक वाहनों की मांग में आशा के अनुरूप सुधार दिखाई देगा जिससे ये उद्योग विकास की गति पकड़ेंगे। ट्रक बेड़े की प्रतिस्थापन मांग भी तेजी से बढऩे की संभावना है। 
 

क्या आप नया ट्रक खरीदना, डीज़ल ट्रक, पेट्रोल ट्रक, इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहन या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस, अपना ट्रक चुनें व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर विजिट करें और अपने फायदे की हर बात जानें। 

ट्रक इंडस्टी से संबंधित नवीनतम अपडेट के लिए हमसे जुड़ें -

FaceBook - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube   -  https://bit.ly/TruckYT

अन्य समाचार

टूल फॉर हेल्प

Call Back Button Call Us