ट्रक जीपीएस : ट्रैकिंग उपकरण से कैसे होगी ट्रकों की सुरक्षा 

News Date 21 Aug 2021

ट्रक जीपीएस : ट्रैकिंग उपकरण से कैसे होगी ट्रकों की सुरक्षा 

ट्रक जीपीएस से जानें, ट्रक व्यापार में क्या-क्या होगा फायदा 

आप ट्रक व्यापार करते हैं लेकिन आपके व्यापार में कई तरह के अनावश्यक खर्चे हो रहे हैं। इन फिजूल खर्चों पर कैसे रोक लग सकती है? किस तरह से आपको ज्यादा से ज्यादा फायदा हो। आपका व्यापार फलता-फूलता रहे, इसके लिए कुछ व्यापारिक टिप्स आपको अपनानी पड़ेंगी। यह डिजीटल युग है और तकनीकी उपकरणों के कारण ट्रक संचालन में आए दिन खर्च तो बढता ही है। ऐसेे में आपको इन खर्चों पर कंट्रोल करने के लिए नई तकनीक का ही सहारा लेना पड़ेगा। कई बार आपके ट्रक में ही चोरी की वारदातें हो जाती हैं। इसके अलावा ईंधन की खपत ज्यादा होने लगती है तो आपके व्यापार में होने वाली बचत प्रभावित होती है। ट्रक जंक्शन पर आपको बताते हैं कि ट्रक व्यापार (Truck business) में बढोतरी के लिए नवीन तकनीक जीपीएस से कैसे आप वाहन की सुरक्षा और पैसे की बचत कर सकते हैं। 

जानें, क्या है जीपीएस तकनीक

ट्रक व्यापार में आप अपने वाहन की सुरक्षा और इसमें होने वाले अनावश्यक खर्चों से बचने के लिए जीपीएस तकनीक को अपना सकते हैं। यहां यह जानना भी जरूरी है कि आखिर क्या है जीपीएस तकनीक। आपको बता दें कि जीपीएस से ट्रांसपोर्टर्स किसी भी डिवाइस यानि सेलफोन के माध्यम से आसानी से अपने वाहनों को ट्रकिंग कर सकते हैं। इसके तमाम फायदों में एक है। जीपीएस एक ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम है, यह एक नेविगेशन  प्रणाली है।  

ट्रकों में जीपीएस से क्या-क्या फायदे 

ट्रक व्यापार में कई तरह के जोखिम होते हैं जैसे वाहन का चोरी हो जाना, उपकरणों पर ज्यादा खर्च, ईंधन की अधिक खपत आदि। इनका एक ही समाधान है जीपीएस सिस्टम लागू करना। आपको बता दें कि जीपीएस ट्रक को चोरी होने से बचाता है, इससे माल पहुंचाने के सही समय का अंदाजा होता है, ईंधन की खपत का अनुमान लगाने में मदद करता है, अलग-अलग मार्ग विकल्प उपलब्ध होते हैं, ट्रक (Truck) का पता करने में जीपीएस मददगार होता है। यदि ट्रक उद्योग जगत में जीपीएस लगाने के फायदों की रिकार्ड के अनुसार बात की जाए तो 1000 से 2000 रुपये के जीपीएस डिवाइस को लगवाने से ट्रक के ईंधन, उसके रखरखाव और बीमा (Insurance) के संदर्भ में हर साल इसकी लागत में पांच गुना तक की बचत होती है। जहां तक जीपीएस उपकरण की कीमत की बात की जाए तो आजकल बाजार में कई ऐसी कंपनियां है जिनकी जीपीएस डिवाइस तकरीबन 3000 रुपये से शुरू होती है। हर कंपनी अपने उपकरणों में पहले से स्थापित सेवाओं का एक अलग सेट प्रदान करती है। 

व्हील्सआई जीपीएस उपकरण भी है एक विकल्प 

ट्रांसपोर्ट (Transporters) व्यवसाय को सुरक्षित चलाते रहने और इसे अपडेट रखने के लिए सभी ट्रक मालिकों को जीपीएस उपकरण लगवाना चाहिए। इससे सकुशल यात्रा में भी फायदा मिलता है। वहीं आजकल एक बेहतर और कई सुविधाओं से युक्त व्हील्सआई जीपीएस उपकरण भी ट्रक मालिक चुन सकते हैं। यह सस्ती कीमत पर उपलब्ध हो जाती है।  

ट्रक व्यवसाय में उन्नति के लिए जानें, टॉप 5 ट्रेंड

आपको ट्रक व्यवसाय में दिनों-दिन बढती डीजल और पेट्रोल (Petrol) की महंगाई और अन्य कई खर्चों के कारण अपेक्षित लाभ कमाने में दिक्कत आ रही है। इसके समाधान के लिए जीपीएस सहित और भी कई विकल्प हैं। ट्रकिंग उपकरण जीपीएस की मदद से निकटतम  माल-भार से मिलान किया जा सकता है। इसके अलावा नवीन तकनीक में डैश कैमरा भी उपयोगी उपकरण है। यह वाहन के साथ-साथ  सडक़ की हर जानकारी को रिकार्ड करने में मदद करता है। इस कैमरे को आपके ट्रक में लगवाने से आपकी बीमा लागत कम होगी। इसके अलावा तापमान नियंत्रित कंटेनर भी काम का उपकरण है। इससे उन ट्रक ड्राइवरों को फायदा होगा जो खास तौर पर दवाइयां या ऐसे खाद्य पदार्थों का परिवहन करते हैं जिनके उच्च या निम्न तापमान में खराब होने का डर बना रहता है। वहीं एसएएएस कंपनी की सेवा ली जा सकती है। यह अपने साफ्टवेयर का उपयोग करने की अनुमति देती है। यह कई उपयोगों में एक इलेक्ट्रिक लॉग बुक है जिसका उपयोग ड्राइवरों और वाहन पर नजर रखने के लिए किया सकता है। 

नई तकनीक को अपनाने में क्या आ रहीं परेशानियां 

ट्रक व्यापार में नवीन तकनीक से इजाफा किया जा सकता है लेकिन इन तकनीकों को अपनाने में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। आपको  यहां बता दें ट्रक व्यवसायियों की मदद के लिए व्हीलआई की ओर से हर रविवार को अलग-अलग ट्रकिंग विशेषज्ञों के साथ डिजीटल संवाद का आयोजन किया जाता है। हाल ही आयोजित संवाद में जो परेशानियां तकनीकी विकास को अपनाने में सामने आईं वे इस प्रकार हैं-: 

  • ट्रक मालिक उत्पादकता में फायदा देखने के लिए इंतजार नहीं करना चाहते। 
  •  इकोसिस्टम तैयार हो रहा है जिससे कई तकनीकों को अपनाने मेंं दिक्कत है। 
  •  ड्राइवर इसमें हिस्सा नहीं ले रहे हैं। ड्राइवरों के व्यवहार को मार्गदर्शित करना जरूरी है। 
  •  भारत में हर ट्रांसपोर्टर के लिए जीपीएस डिवाइस होना जरूरी है जबकि अभी बहुत कम ट्रक मालिक इसे अपना पा रहे हैं। 

 

क्या आप नया ट्रक खरीदना या पुराना ट्रक बेचना चाहते हैं, किफायती मालाभाड़ा से फायदा उठाना चाहते हैं, ट्रक पर लोन, फाइनेंस, इंश्योरेंस व अन्य सुविधाएं बस एक क्लिक पर चाहते हैं तो देश के सबसे तेजी से आगे बढ़ते डिजिटल प्लेटफार्म ट्रक जंक्शन पर लॉगिन करें और अपने फायदे की हर बात जानें।

Follow us for Latest Truck Industry Updates-
FaceBook  - https://bit.ly/TruckFB
Instagram - https://bit.ly/TruckInsta
Youtube     -  https://bit.ly/TruckYT

समान न्यूज

टूल फॉर हेल्प

Cancel

अपना सही ट्रक ढूंढें

नए ट्रक

ब्रांड्स

पुराना ट्रक